ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी की तुलना नटराज, कृष्ण और चाणक्य से करने लगे गुजरात के मंत्री!

जडेजा ने कहा कि अपनी राजनीतिक इच्छाशक्ति के दम पर मोदी भारत के लोगों में खुशी लेकर आए और हालिया चुनाव में मिली बीजेपी की जीत 'राष्ट्रवाद और मोदी के जादू' की वजह से है।

Author नई दिल्ली | July 9, 2019 10:39 AM
भाजपा नेता प्रदीप सिंह जडेजा। (फाइल फोटो)

गुजरात सरकार में गृह राज्य मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने कहा है कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के ऐतिहासिक सफाए की वजह पार्टी की ओर से गुजरात में 2004 से 2014 में की गई ज्यादतियां हैं। यह वही वक्त था जब नरेंद्र मोदी सूबे के मुख्यमंत्री थे। हालांकि, कांग्रेस पर हमला बोलते हुए मंत्री ने पीएम नरेंद्र मोदी की जमकर तारीफ की और उनकी तुलना भगवान नटराज, भगवान कृष्ण और आचार्य चाणक्य से कर डाली। जडेजा के मुताबिक, 2004 से 2014 के बीच देश में अराजकता का ऐसा माहौल था, जैसा प्राचीन मगध साम्राज्य में देखा गया था।

सदन में बोलते हुए जडेजा ने कहा कि 2004 से 2014 के बीच विभाजनकारी ताकतें बेरोकटोक तरीके से देश में सक्रिय थीं। उनके मुतबिक, भ्रष्टाचार और आतंकवाद के बीच तुष्टिकरण की राजनीति भी चरम पर थी। जडेजा के मुताबिक, इसी समयावधि में नरेंद्र मोदी और अमित शाह परिदृश्य में आए और सब कुछ बदल दिया।

उन्होंने कहा, ‘2500 साल पहले, मगध अराजकता के दौर से गुजर रहा था और इन सब के बीच आचार्य चाणक्य के तौर पर एक ईश्वरीय ताकत सामने आई। ऐसे ही हालात 2004 से 2014 के बीच थे।’ जडेजा ने कहा कि अपनी राजनीतिक इच्छाशक्ति के दम पर मोदी भारत के लोगों में खुशी लेकर आए और हालिया चुनाव में मिली बीजेपी की जीत ‘राष्ट्रवाद और मोदी के जादू’ की वजह से है। मंत्री ने आरोप लगाया कि विपक्षी कांग्रेस ने 2004 से 2014 के बीच गुजरात के साथ काफी ज्यादतियां कीं। उन्होंने यह भी कहा कि भगवान कृष्ण की तरह मोदी ने देश में आतंकवाद और विभाजनकारी ताकत रूपी कालिया नाग को काबू किया।

हालांकि, जडेजा के आरोपों को खारिज करते हुए कांग्रेस नेता शैलेश परमार ने कहा कि बीजेपी ऐसी तस्वीर पेश करने की कोशिश कर रही है मानो कांग्रेस ने बीते 70 सालों में कोई काम ही नहीं किया। परमार के मुताबिक, कांग्रेस ने ही आईआईएम, एम्स, इसरो जैसे संगठन स्थापित किए। इसके अलावा, बांध और बंदरगाह भी बनवाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App