ताज़ा खबर
 

लॉकडाउन के बीच प्रवासी मजदूरों से मांगा तिगुना किराया, फिर की बेरहमी से पिटाई, आरोप पर BJP ने झाड़ा पल्ला

Corona Virus: गुजरात के सूरत में एक बीजेपी नेता पर कथित तौर पर आरोप है कि उन्होंने प्रवासी मजूदरों से तिगुना किराया मांगा और फिर बेरहमी से पिटाई की।

Corona Lock Down, Covid-19, Lock Down, Surat, BJPराजेश वर्मा को बीजेपी की सूरत यूनिट का सदस्य बताया जाता है। (फोटो में सबसे दांए)

गुजरात के सूरत में एक बीजेपी नेता पर कथित तौर पर आरोप है कि उन्होंने प्रवासी मजूदरों से तिगुना किराया मांगा और फिर बेरहमी से पिटाई की। बताया जा रहा है कि गुजरात के सूरत के बीजेपी नेता  राजेश वर्मा ने  मजदूरों से झारखंड जाने के लिए तिगुना किराया वसूला और कहा कि उन्हें ट्रेन के जरिए छोड़ा जाएगा। जबकि ऐसी कोई ट्रेन का प्रबंध था ही नहीं। कुछ दिन बाद जब मजदूरों ने पैसे वापस मांगे तो बीजेपी नेता ने इनकी बेरहमी से पिटाई कर दी।

बता दें कि राजेश वर्मा अपने फेसबुक प्रोफाइल पर खुद को बीजेपी कार्यकर्ता बताता है और तस्वीरों में पार्टी के नेताओं के साथ देखा जा सकता है। वर्मा ने ट्रेन टिकट के लिए झारखंड के प्रवासी श्रमिकों के एक समूह से 1 लाख से अधिक रुपये लिए थे। एक मजदूर ने इस बात की जानकारी दी।

सूरत में सत्तारूढ़ भाजपा के प्रमुख ने इस बात से इनकार किया है कि राजेश वर्मा का बीजेपी से संबंध है।  और उनको कोई ऐसी जिम्मेदारी नहीं दी गई थी। सूरत में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी एम. परमार ने कहा कि राजेश वर्मा के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

Coronavirus/COVID-19 और Lockdown से जुड़ी अन्य खबरें जानने के लिए इन लिंक्स पर क्लिक करें: शराब पर टैक्स राज्यों के लिए क्यों है अहम? जानें, क्या है इसका अर्थशास्त्र और यूपी से तमिलनाडु तक किसे कितनी कमाईशराब से रोज 500 करोड़ की कमाई, केजरीवाल सरकार ने 70 फीसदी ‘स्पेशल कोरोना फीस’ लगाईलॉकडाउन के बाद मेट्रो और बसों में सफर पर तैयार हुईं गाइडलाइंस, जानें- किन नियमों का करना होगा पालनभारत में कोरोना मरीजों की संख्या 40 हजार के पार, वायरस से बचना है तो इन 5 बातों को बांध लीजिये गांठ…कोरोना से जंग में आयुर्वेद का सहारा, आयुर्वेदिक दवा के ट्रायल को मिली मंजूरी

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 महाराष्ट्र विधान परिषद चुनावः BJP की कैंडिडेट लिस्ट में पंकजा मुंडे-एकनाथ खड़से के नाम नहीं, पर पूर्व NCP सांसद को मौका
2 Corona Virus Lock Down: रोड पर पुलिस मारती है, इसलिए पटरियों के रास्ते जाते हैं- मजदूरों ने टीवी पर बयां किया दर्द
3 बाबरी मस्जिद विध्वंसः सुप्रीम कोर्ट ने 31 अगस्त तक बढ़ाई केस की सुनवाई
IPL 2020 LIVE
X