ताज़ा खबर
 

आयुष्‍मान भारत योजना लागू करने में गुजरात टॉप पर, यूपी-बिहार का घटिया प्रदर्शन

एक सीनियर सरकारी अधिकारी ने बताया, 'इस योजना के तहत अभी तक 400 करोड़ रुपए खर्च करने का दावा किया गया है, जबकि 350 करोड़ रुपए पहले केंद्र और राज्यों द्वारा दिए जा चुके हैं।'

रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात में सबसे अधिक 76,000 हॉस्पिटलों में इस योजना के तहत प्रवेश हुए जबकि दक्षिणी राज्य तमिलनाडु लिस्ट में दसरे पायदान पर है, जहां 54,273 हॉस्पिटल में प्रवेश दिए गए। (Express Photo by Praveen Khanna)

आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना लांच होने के बाद महज दो महीने के भीतर गुजरात केंद्र की इस महत्वाकांक्षी स्वास्थ्य योजना लागू करने में चोटी के स्थान पर है। 23 नवंबर, 2018 तक की रिपोर्ट के मुताबिक इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का गृह राज्य इस योजना के तहत हॉस्पिटल में करीब 26 फीसदी एंट्री दिला चुका है। 23 सितंबर को लांच हुई AB-PMJAY में दस करोड़ गरीब परिवार को प्रति परिवार पांच लाख रुपए स्वास्थ्य कवरेज का वादा किया गया है। नेशल हेल्थ एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक योजना की शुरुआत से अभी तक 3.4 परिवार इसका लाफ उठा चुके हैं। एक सीनियर सरकारी अधिकारी ने बताया, ‘इस योजना के तहत अभी तक 400 करोड़ रुपए खर्च करने का दावा किया गया है, जबकि 350 करोड़ रुपए पहले केंद्र और राज्यों द्वारा दिए जा चुके हैं।’ बता दें कि वित्त मंत्रालय ने बाकी वित्त वर्ष तक इस योजना को चलाए रखने के लिए दो हजार करोड़ रुपए अतिरिक्त देने को कहा था।

इकोनॉमिक्स टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक गुजरात में सबसे अधिक 76,000 हॉस्पिटलों में इस योजना के तहत प्रवेश हुए जबकि दक्षिणी राज्य तमिलनाडु लिस्ट में दसरे पायदान पर है, जहां 54,273 हॉस्पिटल में प्रवेश दिए गए। लिस्ट में छत्तीसगढ़ तीसरे नंबर पर जहां 53,180 हॉस्पिटल में इस योजना के तहत प्रवेश दिए गए। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक इसके बाद कर्नाटक और महाराष्ट्र का नंबर आता है, जहां क्रमश: 40,216, 27,237 हॉस्पिटल में प्रवेश हुए।

सरकारी डेटा में पता चला है कि उत्तर प्रदेश, जहां सबसे अधिक 1.18 करोड़ परिवार पंजीकृत हैं, में सबसे कम 4,000 हॉस्पिटल में प्रवेश दिए गए। बिहार, जहां 1.09 करोड़ परिवार पंजीकृत, में 23 नवंबर तक 1,176 हॉस्पिटल में प्रवेश दिए गए। हालांकि लिस्ट में गुजरात के सबसे ऊपर रहने पर केंद्र के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गुजरात में इस योजना के समान पहले से ही मुख्यमंत्री अमृतम योजना 2012 से चल रही है। इसे तब के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने लांच किया। इसमें बीपीएल और निम्न मध्यम वर्ग परिवार के लिए 3 लाख रुपए का कवरेज बीमे की सुविधा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App