Gujarat Election Result 2017, Gujrat Vidhan Sabha Chunav Results 2017: BJP Can Not Achieve Expected Victory in Gujarat Assembly Election: Shiv Sena - गुजरात चुनाव परिणाम 2017: शिव सेना ने भाजपा पर कसा तंज, कहा- अपेक्षित जीत हासिल नहीं कर सकी बीजेपी - Jansatta
ताज़ा खबर
 

गुजरात चुनाव परिणाम 2017: शिव सेना ने भाजपा पर कसा तंज, कहा- अपेक्षित जीत हासिल नहीं कर सकी बीजेपी

Gujarat Election Chunav Result 2017 (गुजरात चुनाव नतीजे 2017): संजय राउत ने कहा कि बीजेपी ने चुनाव में धनबल का इस्तेमाल किया और अभियान के दौरान 14 मुख्यमंत्रियों को भेजा।

Author मुंबई | December 19, 2017 9:07 AM
शिवसेना नेता संजय राउत ने राहुल गांधी की तारीफ की है। (फाइल फोटो)

गुजरात विधानसभा चुनाव के नतीजों पर तंज कसते हुए शिव सेना ने सोमवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अपेक्षित जीत हासिल नहीं कर सकी है। शिव सेना सांसद और प्रवक्ता संजय राउत ने मीडिया से कहा, “भाजपा को गुजरात में जीतना ही था..वह राज्य में 22 वर्षों से सत्ता में है। उन्होंने धनबल का इस्तेमाल किया और अभियान के दौरान 14 मुख्यमंत्रियों को भेजा।” राउत ने कहा, “उनकी जीत पहले से तय थी, लेकिन भाजपा को उस तरह से जीत नहीं मिली, जिसकी उसे उम्मीद थी।” उन्होंने कहा, “देश में माहौल बदल रहा है और सेना कांग्रेस को एक प्रमुख विपक्षी दल के रूप में देखती है।” उन्होंने आगे कहा, “हम भाजापा और कांग्रेस दोनों को बधाई देते हैं। गुजरात के नतीजे पूरे देश की सोच निर्धारित करेंगे।”

शिव सेना ने सोमवार को कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व वाली कांग्रेस चुनाव में ‘‘असली विजेता’’ के तौर पर सामने आई है। शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि सत्ता में आना कोई ‘‘बड़ी बात’’ नहीं है। कांग्रेस चुनाव बेशक हार गई है लेकिन उसने भाजपा को ‘‘हरा’’ दिया। राउत ने कहा, ‘‘आपने देखा कि भाजपा सत्ता में आ रही है लेकिन असली विजेता कांग्रेस पार्टी है। वे बेशक हार गए हैं लेकिन उन्होंने भाजपा को हरा दिया है।’’ उन्होंने कहा कि भाजपा पिछले 20 वर्षों से अधिक समय से गुजरात में सत्ता में है। राउत ने कहा, ‘‘सत्ता में आना बड़ी बात नहीं है।’’ शिव सेना नेता ने यह भी कहा कि भाजपा का गुजरात मॉडल विफल हो गया है।

राउत ने दावा किया, ‘‘भाजपा को देश में सत्ता की राह पर लाने वाला मॉडल विफल हो गया है। इसका कारण यह है कि आपने (भाजपा ने) राज्य और देश को जो सपने दिखाए उनमें से कोई भी पूरा नहीं हुआ।’’ राज्यसभा सदस्य ने कहा कि भाजपा ने नोटबंदी से गरीबों की पॉकेटों को खाली कर उन्हें और गरीब बना दिया। उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘‘इसका नतीजा गुजरात में देखा गया।’’ उन्होंने कहा कि चुनाव नतीजे दिखाते हैं कि गुजरात में लोग भाजपा से खुश नहीं है। शिवसेना नेता ने कहा कि भाजपा ‘गुजरात के विकास मॉडल’ की बात करते हुए देश में सत्ता में आई थी।

उन्होंने कहा, ‘‘अगर गुजरात में आवाम भाजपा से खुश नहीं हैं तो उनका मन-मानस समझें, समझें कि देश में लोग क्या महसूस करते हैं। भाजपा को गुजरात के लोगों का मन-मानस तथा उनके खुश नहीं होने का कारण समझना चाहिए।” राज्यसभा सदस्य ने दावा किया कि चाहे वह सुरक्षा का मामला हो या कश्मीर, पाकिस्तान, नोटबंदी, बेरोजगारी अथवा किसान आत्महत्या का मुद्दा, नरेंद्र मोदी की सरकार ने किसी भी मुद्दे पर सफलता नहीं पाई है। राउत की यह टिप्पणी शिवसेना द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तारीफ करने के बाद आई है।

शिवसेना ने राहुल की तारीफ करते हुए कहा है कि वह नतीजे की परवाह किए बगैर गुजरात में चुनावी जंग लड़ रहे थे और यही आत्मविश्वास राहुल को आगे ले जाएगा। उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी ने कहा कि अमेठी से सांसद 47 वर्षीय राहुल गांधी ने बेहद नाजुक मोड़ पर इस सबसे पुरानी पार्टी की बागडोर संभाली है। शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में प्रकाशित एक संपादकीय में लिखा है, “राहुल गांधी ने बेहद नाजुक मोड़ पर कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर जिम्मेदारी स्वीकार की है। उन्हें शुभकामना देने में कोई हिचक नहीं होनी चाहिए।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App