scorecardresearch

गुजरात के डिप्‍टी सीएम ने कहा- जापान में दो घंटे की बुलेट ट्रेन यात्रा के लिए 15 हजार का टिकट खरीदा

कार्यक्रम से इतर रयोजी नोडा ने साफ किया कि भारत में बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट पर भारत तभी काम शुरु करेगा, जब भारत की तरफ से भूमि अधिग्रहण का काम पूरा कर लिया जाएगा।

गुजरात के डिप्‍टी सीएम ने कहा- जापान में दो घंटे की बुलेट ट्रेन यात्रा के लिए 15 हजार का टिकट खरीदा
गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल। (express photo)

गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल का कहना है कि अपनी जापान यात्रा के दौरान उन्होंने वहां 2 घंटे की यात्रा के लिए 15000 का टिकट खरीदा था। नितिन पटेल ने सितंबर, 2018 में अपनी जापान यात्रा को याद करते हुए शुक्रवार शाम आयोजित हुए एक कार्यक्रम में कहा कि मैंने अपनी 8 दिवसीय जापान यात्रा के दौरान बुलेट ट्रेन (Bullet Train) में सफर किया था। वह बुलेट ट्रेन वैसी ही थी, जैसी कि यहां अहमदाबाद और मुंबई के बीच बन रही है। 700 किलोमीटर की इस यात्रा में हमें 2 घंटे लगे और इसके टिकट की कीमत 15000 रुपए थी। वहां कुछ भी मुफ्त में और सस्ता नहीं है। बता दें कि अहमदाबाद मैनेजमेंट एसोसिएशन में जापान इनसाइट-एबीसी नामक इवेंट का आयोजन किया जा रहा है। इस इवेंट में ही नितिन पटेल ने ये बातें कहीं।

इस कार्यक्रम के दौरान वो कंपनियां भी शामिल हुईं, जो कि अहमदाबाद-मुंबई बुलेट ट्रेन (Ahmedabad mumbai bullet train)प्रोजेक्ट के निर्माण में शामिल हैं। हालांकि अपनी बातों में गुजरात के डिप्टी सीएम ने भारत में बनने वाली बुलेट ट्रेन पर ज्यादा बातें नहीं की और सिर्फ अपने निजी अनुभव का ही जिक्र किया। मुंबई में जापान की कांसुलेट जनरल रयोजी नोडा भी इस कार्यक्रम में मौजूद थीं। कार्यक्रम से इतर रयोजी नोडा ने साफ किया कि भारत में बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट पर भारत तभी काम शुरु करेगा, जब भारत की तरफ से भूमि अधिग्रहण का काम पूरा कर लिया जाएगा। कार्यक्रम में अपने भाषण में रयोजी नोडा ने कहा कि बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट से दो महत्वपूर्ण शहर मुंबई और अहमदाबाद जुड़ेंगे। दोनों शहरों के बीच की दूरी 2 घंटे में तय हो सकेगी और इस प्रोजेक्ट के 2022 तक पूरा होने की उम्मीद है।

जापानी अधिकारी ने इस दौरान यह भी कहा कि इस महीने के आखिर में पीएम मोदी जापान की यात्रा भी कर सकते हैं। वहीं बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट की लागत को लेकर विरोध झेल रही सरकार ने इस मुद्दे पर सफाई दी है। गुरुवार को रेल मंत्री पीयूष गोयल ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि जापान में भी जब शिनकानसेन बुलेट ट्रेन की शुरुआत की गई थी, तब जापान में भी कई राजनेता और बुद्धिजीवियों ने इसकी आलोचना की थी। जब भी हम नई तकनीक को देश में लाने की बात करेंगे तो हमें विरोध झेलना पड़ेगा। गोयल ने कहा कि ‘बुलेट ट्रेन को भारत लाना सिर्फ तेज गति की ट्रेन चलाना नहीं है बल्कि नई तकनीक को देश में लाना है।’

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट