गुजरातः सीएम के पास रहेगा गृह मंत्रालय, कनुभाई नए वित्त मंत्री, शपथ लेने वाले 24 मंत्रियों में 21 पहली बार मंत्री बने

गुजरात के लिए नए मंत्रिमंडल के गठन के लिए गुरुवार को 24 नए मंत्रियों के शपथ लेने के साथ ही मुख्यमंत्री ने गुरुवार को अपने नए मंत्रिमंडल की पहली बैठक की।

गुजरात में नई सरकार का गठन किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो)।

गुजरात में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले एक अभूतपूर्व कदम उठाते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बृहस्पतिवार को नवनियुक्त मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल के मंत्रिपरिषद में 24 नए सदस्यों को शामिल किया। गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल गृह मंत्रालय को अपने पास रखेंगे जबकि कनुभाई देसाई को वित्त मंत्रालय दिया गया है। नए मंत्रिमंडल में कोई उपमुख्यमंत्री नहीं होगा। गुजरात के लिए नए मंत्रिमंडल के गठन के लिए गुरुवार को 24 नए मंत्रियों के शपथ लेने के साथ ही मुख्यमंत्री ने गुरुवार को अपने नए मंत्रिमंडल की पहली बैठक की। एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया है कि गृह मंत्रालय के अलावा, मुख्यमंत्री सामान्य प्रशासन विभाग, सूचना और प्रसारण, उद्योग, खान और खनिज, पूंजी परियोजनाओं, शहरी विकास, शहरी आवास और नर्मदा और बंदरगाहों का प्रभार संभालेंगे।

जहां नए मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा किया जा रहा है, वहीं नए गुजरात कैबिनेट ने कई लोगों को हैरान किया है क्योंकि नए मंत्रिमंडल में विजय रूपाणी के मंत्रिमंडल में से किसी को भी शामिल नहीं किया गया है। गुरुवार को शपथ लेने वाले 24 विधायकों में से 21 पहली बार मंत्री बने हैं और जिनमें दो महिलाएं भी शामिल हैं। भूपेंद्र पटेल खुद पहली बार मंत्री बने हैं।

मंत्रियों के शपथ ग्रहण के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट किया, “गुजरात सरकार में मंत्री के रूप में शपथ लेने वाले सभी पार्टी सहयोगियों को बधाई। ये उत्कृष्ट कार्यकर्ता हैं जिन्होंने अपना जीवन सार्वजनिक सेवा और हमारी पार्टी के विकास के एजेंडे को फैलाने के लिए समर्पित कर दिया है। आगे के फलदायी कार्यकाल के लिए शुभकामनाएं। ”

गौरतलब है कि राजनीतिक पर्यवेक्षकों का कहना है कि वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा मंत्रिपरिषद के नये स्वरूप से महत्वपूर्ण प्रभाव छोड़ना चाहती है। उन्होंने कहा कि पार्टी मतदाताओं का सामना साफ सुथरे चेहरों से करना चाहती है।

बता दें कि आज राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने 10 कैबिनेट मंत्रियों और 14 राज्य मंत्रियों को शपथ दिलाई, जिनमें पांच स्वतंत्र प्रभार वाले राज्य मंत्री भी शामिल हैं। मंत्रिपरिषद में नये सदस्यों को शामिल किये जाने के साथ मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल नीत भाजपा सरकार में मंत्रियों की कुल संख्या बढ़ कर 25 हो गई।

राजभवन में आयोजित एक समारोह में दोपहर डेढ़ बजे मंत्री पद की शपथ लेने वालों में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी और पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष जीतू वघानी शामिल हैं। राज्य के 17वें मुख्यमंत्री के रूप में सोमवार को शपथ ग्रहण करने वाले भूपेंद्र पटेल इस दौरान रूपाणी के साथ मौजूद थे। रूपाणी के शनिवार को मुख्यमंत्री पद से अचानक इस्तीफा देने के बाद नई मंत्रिपरिषद का गठन किया गया है।

कैबिनेट मंत्रियों के रूप में शपथ लेने वालों में राजेंद्र त्रिवेदी, जीतू वघानी, ऋषिकेश पटेल, पूर्णेश मोदी, राघवजी पटेल, कनुभाई देसाई, किरीट सिंह राणा, नरेश पटेल, प्रदीप परमार और अर्जुन सिंह चौहान शामिल हैं।

उल्लेखनीय है कि इनमें त्रिवेदी, राणा और राघवजी पटेल पहले भी मंत्री रहे हैं। वहीं, नौ राज्य मंत्रियों में मुकेश पटेल, निमिशा सुतार, अरविंद रैयानी, कुबेर डिंडोर, कीर्ति सिंह वाघेला, गजेंद्र सिंह परमार, आर सी मकवाना, विनोद मोरादिया और देव मालम शामिल हैं।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट