ताज़ा खबर
 

गुजरात: 10 साल बाद तलाला सीट जीत सकी BJP, एक साल में राज्‍य से पहला अच्‍छा समाचार

भाजपा के गोविंद परमार ने कांग्रेस के भगवान बराड को हराया। पिछले साल नवंबर में पंचायत और निकाय चुनावों में हार के बाद भाजपा को जीत की तलाश थी।

तलाला उपचुनाव में जीत भाजपा के लिए काफी जरूरी थी। उसे लगाातार हार झेलनी पड़ रही थी।

भाजपा के लिए गुजरात से एक साल में पहली बार राजनीतिक रूप से अच्‍छी खबर आई है। गिर सोमनाथ जिले की तलाला विधानसभा सीट पर उपचुनाव में भाजपा ने 10 साल बाद जीत दर्ज की है। भाजपा के गोविंद परमार ने कांग्रेस के भगवान बराड को हराया। पिछले साल नवंबर में पंचायत और निकाय चुनावों में हार के बाद भाजपा को जीत की तलाश थी।

Read Alsoछह बार हार कर जीते 87 साल के राजागोपाल, बने केरल में भाजपा के पहले विधायक

भाजपा के परमार ने बराड को 2441 वोट से मात दी। मतगणना के दौरान कांग्रेस 14वें राउंड तक आगे चल रही थी। लेकिन 15वें राउंड में अचानक से ट्रेंड बदला और परमार ने पिछड़न को कम किया। इसके बाद 17वें राउंड की गिनती में जीत दर्ज की। अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले भाजपा के लिए यह जीत टॉनिक का काम कर सकती है। सौराष्‍ट्र में पिछले साल पंचायत और जिला चुनावों में भाजपा को करारी हार झेलनी पड़ी थी। यहां पर पोरबंदर और सुरेंद्रनगर को छोड़कर बाकी सभी जगहों पर उसे मात मिली थी। हालांकि निर्दलियों की मदद से उसने गिर सोमनाथ में भी अपना बोर्ड बनाया था।

Read Also: Bypoll Election result 2016: BJP को फिर मिली निराशा, बिलारी सीट पर सपा का कब्‍जा बरकरार

तलाला उपचुनाव कांग्रेस विधायक जसुभाई बराड के निधन के चलते कराया गया था। कांग्रेस ने बराड के छोटे भाई भगवान को टिकट दिया। भाजपा ने यह सीट जीतने के लिए पूरा जोर लगा दिया। राज्‍य सभा सदस्‍य और महासचिव मनसुख मांडविया को इस चुनाव के लिए इंचार्ज बनाया गया। साथ ही यहां पर एक दर्जन मंत्रियों ने सभाएं की। परमार इस सीट से पहले कई बार चुनाव हार चुके थे। लेकिन भाजपा ने उन्‍हीं में विश्‍वास जताया। 2007 में उन्‍हें भगवान ने 5632, 2012 में जसुभाई ने 1478 मतों से हराया था। हालांकि 2002 में परमार ने जसुभाई को 626 वोट से हराया था।

Read Alsoपुत्र प्रेम ने गोगोई को हराया? 2011 में जिसे लगाई थी लताड़, वही हेमंत बिस्‍व सर्मा बने BJP की जीत के सूत्रधार

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App