ताज़ा खबर
 

गुजरात: मोदी सरकार में मंत्री रहे भाजपा नेता का आरोप- वर्गीज कुरियन ने अमूल के पैसों से कराया धर्मांतरण

भाजपा नेता ने कहा कि "जब कूरियन अमूल का नेतृत्व कर रहे थे, तब उन्होंने ईसाई मिशनरीज को डोनेशन दी। आप अमूल के रिकॉर्ड से इस बात का पता लगा सकते हैं।

verghese kurienगुजरात में भाजपा नेता का डॉ. वर्गीज कूरियन पर गंभीर आरोप।

गुजरात के एक भाजपा नेता और पूर्व मंत्री ने आरोप लगाया है कि भारत में दुग्ध क्रांति के जनक वर्गीज कूरियन ने अमूल का गुजरात में मिशनरीज को दिया था और ये मिशनरीज धर्मांतरण के काम में लिप्त थीं। यह बयान भाजपा नेता दिलीप संघानी ने शनिवार को अमरेली में अमर डेयरी पर हुए एक कार्यक्रम में दिया। दिलीप संघानी ने अपने बयान में कहा कि “अमूल की शुरुआत त्रिभुवनदास पटेल द्वारा की गई थी, लेकिन क्या देश में कोई व्यक्ति त्रिभुवनदास पटेल को जानता है? गुजरात के किसानों और मवेशी पालकों की कड़ी मेहनत से इकट्ठा किया गया पैसा, उन्होंने (कूरियन) धर्मांतरण के लिए डंग (दक्षिणी गुजरात में एक जगह) में दान कर दिया।”

भाजपा नेता ने कहा कि “जब कूरियन अमूल का नेतृत्व कर रहे थे, तब उन्होंने ईसाई मिशनरीज को डोनेशन दी। आप अमूल के रिकॉर्ड से इस बात का पता लगा सकते हैं। भाजपा नेता दिलीप संघानी ने कहा कि जब वह मंत्री थे तो उनके सामने यह मुद्दा आया था लेकिन उस वक्त मुझे चुप रहने की सलाह दी गई क्योंकि उस वक्त केन्द्र में कांग्रेस की सरकार थी और वह इस मुद्दे को पूरे देश में फैला सकते थे।” जब दिलीप संघानी से सवाल किया गया कि उन्होंने इस मामले की कोई जांच करायी थी तो उन्होंने कहा कि “हमने वो सब किया जो हमें करना चाहिए था। बस हमने यह बात उस वक्त सार्वजनिक नहीं की।” बता दें कि दिलीप संघानी अमर डेयरी के फाउंडर चेयरमैन भी हैं, जिसे अमरेली जिला को-ऑपरेटिव मिल्क प्रोड्यूसर्स यूनियन लिमिटेड द्वारा संचालित किया जाता है।

संघानी ने कहा कि “हमें वर्गीज कूरियन के योगदान पर कोई संदेह नहीं है लेकिन आज कोई भी त्रिभुवनदास पटेल को याद नहीं करता, जो कि अमूल के फाउंडर थे….कूरियन सिर्फ एक सेक्रेटरी थे।” बता दें कि दिलीप संघानी ने ये बातें डॉ. कूरियन के योगदान को याद करते हुए उनके सम्मान में आयोजित की गई एक बाइक रैली के कार्यक्रम में कही। दिलीप संघानी साल 2007-2012 तक गुजरात में कृषि, को-ऑपरेशन और एनिमल हसबैंड्री मंत्रालय का कामकाज संभाल चुके हैं और फिलहाल गुजरात स्टेट को-ऑपरेटिव मार्केटिंग फेडरेशन के चेयरमैन और नेशनल एग्रीकल्चर को-ऑपरेटिव मार्केटिंग फेडरेशन के उपाध्यक्ष हैं। डॉ. वर्गीज कूरियन का 26 नवंबर को जयंती है और उनके जन्मदिन को देश में नेशनल मिल्क डे के रुप में मनाया जाता है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 जम्‍मू-कश्‍मीर: शोपियां एनकाउंटर में छह आतंकी ढेर, पूरे जिले में मोबाइल इंटरनेट बंद
2 Ayodhya Dharma Sabha: स्वामी रामभद्राचार्य बोले- राम मंदिर पर 11 दिसंबर के बाद बड़ा ऐलान, शिवपाल यादव ने कहा, ‘सरयू किनारे हो निर्माण’
3 अयोध्‍या में लगेगी भगवान राम की 221 मीटर ऊंची मूर्ति, बनेगा मॉडर्न म्‍यूजियम, योगी ने दी हरी झंडी