बच्चे की जान बचाने को दादा-दादी ने दिखाई बहादुरी, तेंदुए के जबड़े से छुड़ा लाए मासूम को

हाल ही में इंदौर में ऐसा ही एक नजारा देखने को मिला था। जब 70 साल के चरवाहे ने अपनी बहादुरी का परिचय देते हुए तेंदुए के हमले को बेकार कर दिया था।

Madhya Pradesh, Leopard, Madhya Pradesh News,
मध्यप्रदेश में दादी-दादी ने दिखायी हिम्मत, तेंदुए के जबड़े से छुड़ाकर बचायी पोती की जान (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

मध्यप्रदेश के कूनों नेशनल पार्क के पास एक दादा-दादी ने अपने पोती को तेंदूए से बचाने के लिए गजब की बहादुरी दिखायी। घटना श्योपुर जिले के कराहल गांव की बतायी जा रही है, जहां जय सिंह गुर्जर और बसंती बाई अपनी एक साल की पोती के साथ घर के आंगन में सो रहे थे। इस बीच एक तेंदुआ आया और बच्ची को लेकर जाने लगा बच्ची की आवाज सुनकर दादा दादी उठ गए और उन्होंने तेंदुए के मुंह में फंसी पोती को बचाने के लिए अपनी जान की बाजी लगा दी।

संघर्ष के दौर में बुजुर्ग दादा-दादी के हाथ और शरीर के अन्य हिस्सों पर तेंदुए के दांत और नुकीले पंजे से जख्म हो गए। आवाज सुनकर परिवार के अन्य लोग भी जग गए और थोड़ी देर में गांव के लोग भी लाठी-डंडे लेकर पहुंच गए। लोगों को आता देख तेंदुआ बच्ची को छोड़कर भाग गया। दादा के पैर में तेंदुए के दांत से गहरा घाव भी हो गया है। बताते चलें कि यह गांव कुनो नेशनल पार्क के पास ही बसा हुआ है। घटना के बाद से गांव में खौफ का माहौल बना हुआ है।

बताते चलें कि कई बार इंसानों की बस्ती में तेंदुआ जैसे जानवर आ जाते हैं जिसके बाद वन विभाग का काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है। गौरतलब है कि हाल ही में इंदौर में ऐसा ही एक नजारा देखने को मिला था। जब 70 साल के चरवाहे ने अपनी बहादुरी का परिचय देते हुए तेंदुए के हमले को बेकार कर दिया था। घटना इंदौर के पोहरी नगर के शिवपुरी इलाके में हुई थी। 70 वर्षीय कोमल प्रसाद बघेल पोहरी के पास जंगल में भैंसों के लिए चराने के लिए गए थे तभी अचानक तेंदुए ने उन पर हमला कर दिया था।

अमूमन ऐसी स्थितियों में लोग बचने का प्रयास छोड़ते हुए खुद को जंगली जानवरों के हवाले कर देते हैं लेकिन 70 साल के कोमल प्रसाद ने हार नहीं मानी। जब तेंदुए ने उन्हें पटक दिया तो उन्होंने घबराने के बजाय संघर्ष करने का निर्णय लिया। तेंदुए ने गर्दन पर झपट्टा मारा तो कोमल प्रसाद ने एक हाथ से तेंदुए का मुंह और दूसरे हाथ से उसकी गर्दन पकड़ ली। और अपनी पूरी ताकत से चिल्लाना शुरू कर दिया।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट