ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान को झटकाः आतंकी और जासूसी गतिविधियों को लेकर अब PAK उच्चायोग के कर्मचारियों की संख्या आधी करेगा इंडिया

विदेश मंत्रालय के अनुसार, पाकिस्तान इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग के अधिकारियों को डराने का लगातार अभियान चला रहा है।

दिल्ली स्थित Pakistan High Commission के बाहर तैनात पुलिस। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः अमित मेहरा)

भारत ने पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान को मंगलवार को करारा झटका दिया है। आतंकी और जासूसी गतिविधियों को लेकर भारत अब नई दिल्ली स्थित पाकिस्तान उच्चायोग के कर्मचारियों की संख्या घटाकर आधी कर देगा। यह जानकारी विदेश मंत्रालय के बयान में कहा गया- भारत ने पाकिस्तान के उपउच्चायुक्त को तलब कर दिल्ली स्थित उच्चायोग के अधिकारियों की गतिविधियों को लेकर अपनी चिंता जाहिर की है।

बकौल MEA, “भारत ने पाकिस्तान के उपउच्चायुक्त से कहा कि पाक उच्चायोग के अधिकारी जासूसी में लिप्त हैं और आतंकी संगठनों से संबंध रखे हैं। इंडिया ने पाकिस्तान से नयी दिल्ली स्थित अपने उच्चायोग से कर्मचारियों की संख्या 50 फीसदी तक कम करने को कहा है।

विदेश मंत्रालय के मुताबिक, भारत इसी तरह इस्लामाबाद (पाकिस्तान) स्थित भारतीय उच्चायोग में अपने कर्मचारियों की संख्या में कमी लाएगा। यह फैसला सात दिनों के भीतर प्रभाव में आएगा और इस बारे में Pakistani Charge d’Affaires को सूचित कर दिया गया है।

Charge d’ Affaires of Pakistan को मंगलवार को इस बाबत समन भी किया गया है और उसके उच्चायोग के अफसरों की हरकतों के बारे में चिंता जताते हुए सूचित किया है। हाल का उदाहरण देते हुए MEA ने बताया कि पाकिस्तान उच्चायोग के दो अधिकारी जासूसी करते कुछ दिन पहले रंगे हाथों पकड़े गए थे और उन्हें 31 मई को देश छोड़ने का आदेश दिया गया था।

विदेश मंत्रालय के अनुसार, पाकिस्तान इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग के अधिकारियों को डराने का लगातार अभियान चला रहा है। विदेश मंत्रालय ने एक बयान में इस्लामाबाद में हाल ही में दो भारतीय अधिकारियों का अपहरण होने और उनके साथ किये गये ‘‘बर्बर बर्ताव’’ का भी जिक्र किया गया है। मंत्रालय ने कहा, ‘‘पाकिस्तान और इसके अधिकारियों का बर्ताव वियना संधि तथा राजनयिक अधिकारियों एवं दूतावास अधिकारियों के साथ व्यवहार के बारे में द्विपक्षीय समझौतों के अनुरूप नहीं है। इसके उलट, यह सीमा पार (भारत में) हिंसा और आतंकवाद का समर्थन करने वाली एक वृहद नीति का स्वाभाविक हिस्सा है।’’

मंत्रालय ने कहा कि इसलिए, भारत ने नयी दिल्ली स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग में कर्मचारियों की संख्या 50 प्रतिशत घटाने का फैसला लिया है। मंत्रालय ने कहा, ‘‘यह (भारत) भी इसके बदले में इस्लामाबाद में इसी अनुपात में अपनी मौजूदगी घटाएगा। इस फैसले से, जो सात दिनों में क्रियान्वित किया जाएगा, पाकिस्तान के उप उच्चायुक्त को अवगत करा दिया गया है।’’

Next Stories
1 पंजाब Lockdown में ढील पर राजीः होटल, रेस्त्रां और मैरिज हॉल समेत खुलेंगी ये चीजें, पर क्या होंगे नियम और कायदे
2 कोरोना काल में और अमीर हुए जेफ बेजोस और मुकेश अंबानी, जानें- क्यों बढ़ी दौलत
3 चीन के मसले पर पीएम मोदी ने दिखाया जवाहर लाल नेहरू जैसा रवैया: रामचंद्र गुहा
ये पढ़ा क्या?
X