ताज़ा खबर
 

59 ऐप बैनः चीनी कंपनियों को केंद्र की दो टूक- कड़ाई से मानो आदेश वर्ना, लेंगे सख्त ऐक्शन; PAK में PUBG और Bigo पर प्रतिबंध

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने इन संभी कंपनियों को पत्र लिखकर आगाह किया है कि इन प्रतिबंधित ऐप का किसी भी रूप से सीधे या परोक्ष रूप से उपलब्धता और परिचालन जारी रहना न केवल अवैध है बल्कि सूचना प्रौद्योगिकी कानून एवं अन्य संबंधित प्रावधान के तहत दंडनीय अपराध है।

सरकार ने चीनी कंपनियों के 59 ऐप पर पाबंदी लगाने के बाद मंगलवार को उन्हें इस आदेश का कड़ाई से पालन करने को कहा और उल्लंघन करने पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी।

सरकार ने चीनी कंपनियों के 59 ऐप पर पाबंदी लगाने के बाद मंगलवार को उन्हें इस आदेश का कड़ाई से पालन करने को कहा और उल्लंघन करने पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी।आधिकारिक सूत्रों के अनुसार आदेश का किसी भी तरीके से उल्लंघन करने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी गयी है। सरकार ने 29 जून को चीन से संबद्ध टिकटॉक, कैमस्कैनर और यूसी ब्राउजर समेत 59 ऐप पर पाबंदी लगा दी। उसका कहना था कि ये ऐप देश की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा के लिये खतरा हैं।

एक सरकारी सूत्र ने कहा कि सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने इन संभी कंपनियों को पत्र लिखकर आगाह किया है कि इन प्रतिबंधित ऐप का किसी भी रूप से सीधे या परोक्ष रूप से उपलब्धता और परिचालन जारी रहना न केवल अवैध है बल्कि सूचना प्रौद्योगिकी कानून एवं अन्य संबंधित प्रावधान के तहत दंडनीय अपराध है। सूत्र ने कहा कि प्रतिबंधित सूची में शामिल अगर कोई भी ऐप किसी अन्य माध्यम से भारत में उपयोग के लिये प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से उपलब्ध कराया जाता है, इसे सरकारी आदेश का उल्लंघन माना जाएगा।

उसने कहा कि इन सभी कंपनियों को निर्देश दिया जाता है कि वे मंत्रालय के आदेश का कड़ाई से पालन करें और ऐसा नहीं करने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।मंत्रालय ने इन कंपनियों को भेजी सूचना में कहा कि संप्रभु शक्तियों और सूचना प्रौद्योगिकी कानून की धारा 69 ए का उपयोग करते हुए यह पाबंदी लगायी गयी है। कंपनियों को इस संदर्भ में जारी आदेश का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने को कहा गया है।

पाकिस्तान ने टिकटॉक को दी चेतावनी, बीगो लाइव एप पर लगाया प्रतिबंध: पाकिस्तान के टेलीकम्युनिकेशन प्राधिकरण ने ‘‘अनैतिक, अभद्र और अश्लील’’ सामग्री की बड़े पैमाने पर शिकायत मिलने के बाद सिंगापुर के लाइव स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म बीगो लाइव पर पाबंदी लगा दी है और चीन के टिकटॉक एप को चेतावनी दी है।प्राधिकरण ने एक बयान में कहा कि इन दो प्लेटफॉर्म की सामग्री का ‘‘समाज और खासतौर पर युवाओं पर बहुत ही नकारात्मक असर’’ पड़ सकता है।

उसने सोमवार को एक ट्वीट में यह भी कहा कि इस संबंध में इन एप की कंपनियों को शिकायत की गई लेकिन उनके जवाब संतोषजनक नहीं हैं।इस कदम की पाकिस्तान के अधिकार कार्यकर्ताओं ने आलोचना की है। वे इसे रूढ़ीवादी मुस्लिम राष्ट्र में और अधिक सेंसरशिप लगाने की आशंका के तौर पर देख रहे हैं।
टिकटॉक और बीगो लाइव पाकिस्तानी किशोरों और युवाओं के बीच बहुत लोकप्रिय है।इस्लामाबाद स्थित सोशल मीडिया अधिकार समूह बाइट्सफॉरऑल के शहजाद अहमद कहते हैं, ‘‘यह तो और अधिक सेंसरशिप की शुरुआत है।’’ उन्होंने आरोप लगाया कि पाकिस्तान चीन की तर्ज पर चलना चाहता है जिस पर सूचनाओं के मुक्त प्रवाह पर नियंत्रण करने का प्रयास करने के आरोप लगते हैं।

Next Stories
1 बिहार में कोरोना पर हाल हाथ के बाहर, अस्पतालों में पड़ी लाशें दे रहीं सरकार के अच्छे शासन की गवाही- राहुल का तंज
2 Delhi Riots: आरोपी शरजील इमाम को हुआ COVID19, एक्टिविस्ट बोलीं- जेलों को ‘डेथ कैंप’ बना रही मोदी सरकार, खतरे में JNU स्टूडेंट की जान
3 ममता का मोदी पर निशाना- बंगाली चलाएंगे बंगाल, न कि गुजरात से होगा शासन; BJP बोली- दीदी अगले साल नहीं ले पाएंगी CM पद की शपथ
ये पढ़ा क्या?
X