ताज़ा खबर
 

मोदी सरकार 2.0 को राहुल गांधी ने बताया ‘Demon 2.0’, कहा- लोगों, MSME को कैश ट्रांसफर न कर इकनॉमी तबाह कर रहा केंद्र

शनिवार को उन्होंने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार लोगों को सीधे कैश ट्रांसफर के जरिए मदद न कर के देश की अर्थव्यवस्था को बुरी तरह तबाह कर रही है। यह डेमन 2.0 है।

पूर्व कांग्रेस चीफ राहुल गांधी ने इससे पहले मोदी सरकार द्वारा लगाए गए लॉकडाउन को फेल कहा था। (फाइल फोटोः पीटीआई)

पूर्व Congress चीफ राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली NDA 2.0 (मोदी 2.0) को ‘Demon 2.0’ (राक्षस) करार दिया है। उन्होंने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा कि कोरोना वायरस संकट और लॉकडाउन काल में केंद्र सरकार लोगों और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग (एमएसएमई) को सीधे कैश ट्रांसफर के जरिए मदद न कर के देश की अर्थव्यवस्था को बुरी तरह तबाह कर रही है। यह डेमन 2.0 है।

दरअसल, राहुल ने शनिवार को इस बाबत टि्वटर पर एक खबर शेयर की, जिसका शीर्षक ‘Addressing pre-Covid issues to be crucial for India’s recovery’ है। अंग्रेजी अखबार ‘हिंदुस्तान टाइम्स’ की इस रिपोर्ट में कोरोना वायरस महामारी ने विश्व भर में 60 लाख से अधिक लोगों को संक्रमित किया, जबकि यह बीमारी तीन लाख 95 हजार से अधिक जानें ले चुकी है। कोरोना संक्रमण से जो संकट पनपा, उसकी वजह से दुनिया भर के देशों की अर्थव्यवस्था अस्त व्यस्त हो गई।

आगे खबर में यह भी सवाल उठाया गया कि आखिर इस महामारी का भारत पर क्या असर होगा? Reserve Bank of India (RBI) के अनुमान के हवाले से आशंका जताई गई कि मौजूदा वित्त वर्ष में देश की इकनॉमी दब या गिर जाएगी।

Coronavirus in India Live Updates in Hindi

 

पूर्व कांग्रेस चीफ ने इससे पहले मोदी सरकार द्वारा लागू किए गए लॉकडाउन को लेकर भी ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने विस्तृत आंकड़े साझा करते हुए दावा किया था कि यह लॉकडाउन नाकाम रहा।

वहीं, LAC विवाद को लेकर चीन के साथ भारत की तनातनी पर जनरल पनाग (रिटायर्ड) का लेख शेयर कर उन्होंने कहा था कि हर राष्ट्रवादी को इसे पढ़ना चाहिए। लेख में दावा किया गया है कि चीन का पलड़ा फिलहाल भारी है और उसके सैनिक तीन अलग-अलग जगहों पर भारतीय सीमा में कुछ हद तक दाखिल हो चुके हैं।

बता दें कि कोरोना, लॉकडाउन के बीच राहुल गांधी और कांग्रेस पिछले कई हफ्तों से सरकार से यह मांग कर रहे हैं कि गरीबों, मजदूरों और एमएसएमई की वित्तीय मदद की जाए। उनका कहना है कि लोगों को खातों में अगले छह महीनों के लिए 7500 रुपये महीने भेजे जाएं और तत्काल 10 हजार रुपये दिए जाएं।

हालांकि, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी का कहना है कि कोरोना वायरस महामारी पर Congress गलत, भ्रामक और भटकाऊ जानकारियां लोगों के बीच फैला रही है। कांग्रेस फिलहाल राजनीतिक प्रदूषण (Political Pollution) फैला रही है। नकवी ने हिदायत देते हुए कहा कि उन्हें तो समस्या के हल का हिस्सा बनना चाहिए। न कि बाधा बनने का।

राहुल की बहन पर मौर्य का तंज, नया नाम दे बोले- प्रियंका कोई गंभीरता से नहीं लेताः इसी बीच, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने शनिवार को चुटकी ली। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया उन्हें ‘‘प्रमुख राष्ट्रीय नेता’’ के रूप में दिखाता है, लेकिन वह 2019 लोकसभा चुनाव में अमेठी से अपने भाई और पार्टी के तत्कालीन अध्यक्ष की जीत भी सुनिश्चित नहीं कर सकीं।

राज्य की राजनीति में प्रियंका के प्रभाव को कमतर आंकते हुए मार्य ने कहा, ‘‘मैं उन्हें गंभीरता से नहीं लेता… हमने उनका नाम ‘प्रियंका टिवटर वाड्रा’ रखा है। वह सिर्फ दो-तीन दिन ट्वीट करती हैं, और मीडिया उसी में व्यस्त हो जाता है। सोशल मीडिया पर उन्हें प्रमुख राष्ट्रीय नेता बताया जाता है।’’

उन्होंने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘हर कोई जानता है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में वह कांग्रेस पार्टी के चुनाव प्रचार के लिये आयी थी, आशा कर रही थीं कि अपने भाई को प्रधानमंत्री बनवाएंगी, लेकिन वह जीत तक सुनिश्चित नहीं कर सकीं।’’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘क्या मैं इनके लिए इतना अहम हूं?’ पीएम मोदी की आलोचना करने पर FIR के बाद विनोद दुआ ने बीजेपी पर कसा तंज, समर्थन में उतरे पत्रकार
2 दीपक चौरसिया, SC के वकील और केंद्रीय मंत्री के सलाहकार हथिनी की मौत को साम्प्रदायिक रंग देने पर चौतरफा घिरे, डिलीट करना पड़ा ट्वीट
3 ‘खबरदार जो राहतकार्य में ली घूस!’ ममता बनर्जी ने 3 घंटे की मैराथन मीटिंग में TMC कार्यकर्ताओं को पढ़ाया चुनावी पाठ