ताज़ा खबर
 

बैंकों में जमा रकम में करीब 4 लाख करोड़ रुपये घटी सरकार की हिस्सेदारी! सामने आए आंकड़े

संस्थागत श्रेणियों की बात करें तो बैंकों में जमा रकम के मामले में सबसे बड़ी 63.2 प्रतिशत हिस्सेदारी हाउसहोल्ड सेक्टर की है। इस सेक्टर के बैंक डिपॉजिट में 2018 के 74.11 लाख करोड़ रुपये से बढ़कर 2019 में 81.51 लाख करोड़ रुपये का इजाफा हुआ।

Author नई दिल्ली | Published on: November 18, 2019 8:07 AM
मार्च 2018 में सरकारी सेक्टर की कुल डिपॉजिट में हिस्सेदारी 13.5 प्रतिशत थी। (फाइल फोटो)

कमर्शियल बैंकों में जमा कुल रकम में सरकार की हिस्सेदारी में बड़ी गिरावट देखने को मिली है। मार्च 2018 में यह रकम 15.79 लाख करोड़ रुपये थी लेकिन मार्च 2019 में यह घटकर 11.86 लाख करोड़ रुपये हो गई। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की ओर से जारी आंकड़ों में इस बात का खुलासा हुआ है। हालांकि, इस समयावधि में नॉन फाइनेंशियल कॉरपोरेट्स की जमा रकम में 6.5 लाख करोड़ रुपये का इजाफा हुआ है।

आरबीआई के डेटा के मुताबिक, मार्च 2018 में सरकारी सेक्टर की कुल डिपॉजिट में हिस्सेदारी 13.5 प्रतिशत थी जो मार्च 2019 में घटकर 9.2 पर्सेंट रह गई। वहीं दूसरी ओर नॉन फाइनेंशियल कंपनियों की हिस्सेदारी मार्च 2018 में 11.82 लाख करोड़ रुपये (कुल डिपॉजिट का 10.1 प्रतिशत) से बढ़कर 18.36 लाख करोड़ रुपये (कुल डिपॉजिट का 14.24 प्रतिशत) हो गई। यानी एक साल में नॉन फाइनेंशियल कंपनियों के बैंक डिपॉजिट में 650,000 करोड़ रुपये का शिफ्ट देखा गया।

संस्थागत श्रेणियों की बात करें तो बैंकों में जमा रकम के मामले में सबसे बड़ी 63.2 प्रतिशत हिस्सेदारी हाउसहोल्ड सेक्टर की है। इस सेक्टर के बैंक डिपॉजिट में 2018 के 74.11 लाख करोड़ रुपये से बढ़कर 2019 में 81.51 लाख करोड़ रुपये का इजाफा हुआ। हालांकि, कुल प्रतिशतता के मापदंड पर देखें तो 2019 में कुल डिपॉजिट में हाउसहोल्ड सेक्टर की हिस्सेदारी 63.21 प्रतिशत थी, वहीं 2018 में भी यह इसी के आसपास 63.3 प्रतिशत रही।

अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर छाई मंदी के मद्देनजर एक्सपर्ट्स का मानना है कि कारपोरेट जगत को टैक्स में दी गई छूट और नए निवेश में आई कमी की वजह से इस सेक्टर के बैंक डिपॉजिट में अभी और इजाफा होगा। वहीं, आरबीआई के आंकड़ों से यह भी खुलासा हुआ है कि बैंक में जमा रकम में करेंट, सेविंग और टर्म डिपॉजिट की हिस्सेदारी क्रमश: 9.6 प्रतिशत, 31.9 प्रतिशत और 58.5 प्रतिशत है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 असदुद्दीन ओवैसी ने साधा PM मोदी पर निशाना, कहा- इतनी मोहब्बत है बांग्लादेश से कि आदिवासियों की जमीन छीन ली!
2 Weather Forecast Today Live News Updates: दिल्ली में वायु गुणवत्ता में सुधार, तेज हवाओं ने दी राजधानी को वायु प्रदूषण से आंशिक राहत
3 ‘जिस नेता को PM मोदी कहते हैं छोटा भाई, सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें निर्वस्त्र किया’, हिरासत से बदसलूकी पर बिफरीं महबूबा- सोचिए आमजन की क्या औकात?
जस्‍ट नाउ
X