ताज़ा खबर
 

यूपी: कर्मचारी थूक लगाकर नहीं पलट सकेंगे फाइलों के पन्ने, योगी सरकार ने लगाई रोक

रायबरेली के मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल ने यह आदेश जारी कर कहा कि सरकारी अधिकारी थूक लगाकर फाइलों और दस्तावेजों के पन्ने नहीं पलटें।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में अब सरकारी अधिकारी फाइलों और अन्य दस्तावेजों का पन्ना पलटने के लिए थूक का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। सरकार ने संक्रामक रोगों के प्रसार को रोकने के लिए यह कदम उठाया है। रायबरेली के मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल ने यह आदेश जारी कर कहा कि सरकारी अधिकारी थूक लगाकर फाइलों और दस्तावेजों के पन्ने नहीं पलटें। गोयल ने कहा कि इस आदत को छोड़ने से संक्रामक रोगों के फैलने से रोकने में मदद मिलेगी।

सरकारी आदेश में कहा गया, ‘यह देखा गया है कि अधिकारी और कर्मचारी फाइलों के पन्ने पलटने के लिए लार (थूक) का उपयोग करते हैं, जिसके कारण संचारी रोगों के फैलने का खतरा होता है।’ न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक आदेश में आगे कहा गया कि ‘इसलिए सभी जिला स्तर के अधिकारियों, कर्मचारियों और ब्लॉक विकास अधिकारियों को निर्देश दिया जाता है कि वो संक्रामक रोगों से बचने के लिए पन्ने पलटने के लिए ‘पानी स्पंज’ का इस्तेमाल करें।’ आदेश में आगे कहा किया कि संबंधित कार्यालयों में कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित करें और तीन दिनों में सीडीओ कार्यालय को अनुपालन रिपोर्ट भेजें।

उल्लेखनीय है कि तेजी से फैलते कोरोनावायरस के प्रकोप के बीच यह आदेश आया है। इस वायरस के प्रकोप ने दुनियाभर में कई देशों को परेशानी में डाल दिया है। दिसंबर में वायरस के फैलने के बाद से पूरी दुनिया दहशत में है। इस वायरस की वजह से अभी तक 2,300 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है जबकि 75,400 से अधिक लोग संक्रमित हैं।

चीन के वुहान शहर में पैदा यह घातक वायरस भारत, अमेरिका, ब्रिटेन और रूस सहित 25 देशों में फैल गया है। भारत में अभी तक कोरोना वायरस के तीन मामले पाए गए हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इसे महामारी का प्रकोप घोषित किया है, जो कि 2003 की SARS की ही शैली है। WHO ने आपातकाल के रूप में और आधिकारिक तौर पर इसका नाम ‘COVID-19’ रखा गया है।

Next Stories
1 Donald Trump India Visit: आइटीसी मौर्य होटल के सभी कमरे बुक, जहां से गुजरेंगे ट्रंप वहां पर गश्त दे रहे NSG कमांडो
2 ताजमहल की खूबसूरती पर फिदा हुए थे बिल क्लिंटन
3 मणिपुर में पॉलिटिकल साइंस पेपर में भाजपा का चुनाव चिह्न बनाने का सवाल, राष्ट्र निर्माण को लेकर नेहरू के बारे नकारात्मक बातें भी पूछीं
Coronavirus LIVE:
X