ताज़ा खबर
 

500, 1000 के पुराने नोट रखने पर लगेगा जुर्माना, केंद्र सरकार ने जारी किया अध्‍यादेश

एक व्‍यक्ति 500 और 1000 रुपए के अधिकतम 10 नोट अपने पास रख सकेगा।

मंबई के मरीन ड्राइव पर एक कार्यक्रम के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी। (Source: PTI)

केंद्र सरकार ने अध्‍यादेश जारी कर पुराने प्रतिबंधित नोट (500, 1000 रुपए) को रखने तथा जमा कराने की सीमा तय कर दी है। यह फैसला कैबिनेट की बुधवार को हुई बैठक में लिया गया। एएनआई ने सूत्रों के हवाले से कहा है कि इस अध्‍यादेश का नाम ‘द स्‍पेसिफाइड बैंक नोट्स सीजेशन ऑफ लायबिलिटीज ऑर्ड‍िनेंस’ है। सीएनएनन्‍यूज18 के अनुसार, पुराने नोटों में लेन-देन करने वालों को 5,000 रुपए की सजा होगी। पुराने नोट रखने वालों को चार साल जेल का भी प्रावधान किया गया है। एक व्‍यक्ति 500 और 1000 रुपए के अधिकतम 10 नोट अपने पास रख सकेगा। पेनाल्‍टी से जुड़े मामलों पर निर्णय म्‍यूनिसिपल मजिस्‍ट्रेट स्‍तर का अध्‍ािकारी करेगा। इस अध्‍यादेश में रिजर्व बैंक के सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्‍टर्स की सिफारिशें भी शामिल होंगी। 30 दिसंबर के बाद प्रतिबंधित नोट सिर्फ रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया में ही जमा कराए जा सकेंगे। इसके लिए एक ग्रेस पीरियड का ऐलान बाद में किया जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में अध्यादेश को मंजूरी दी गई और इस तरह के नोटों के धारकों के प्रति सरकार की जिम्मेदारी खत्म करने की बात कही गई। लोग पुराने नोट 30 दिसंबर तक बैंकों में और अगले साल 31 मार्च तक भारतीय रिजर्व बैंक में जमा कर सकते हैं। अधिकारिक सूत्रों के अनुसार, अधिसूचना जारी करने से पहले ‘निर्दिष्ट बैंक नोट देयताएं समाप्ति अध्यादेश’ को मंजूरी के लिए राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के पास भेजा जाएगा। मुखर्जी अभी हैदराबाद में हैं।

केंद्र सरकार ने पास किया अध्यादेश- “31 मार्च के बाद 500-1000 रुपए के पुराने नोट रखने पर होगी जेल”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App