ताज़ा खबर
 

राहुल बजाज के बयान पर बोलीं FM निर्मला सीतारमण- हम हैं निंदा सुनने वाली सरकार

उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया में तो कुछ लोगों ने सबसे खराब वित्त मंत्री कह दिया, लेकिन मैंने कुछ नहीं कहा। मंत्री ने कहा कि यह सरकार और प्रधानमंत्री आलोचनाओं को सुनते हैं और सकारात्मक ढंग से जवाब देते हैं।

Author नई दिल्ली | Published on: December 2, 2019 8:29 PM
संसद में बोलतीं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (फोटो सोर्स -ANI)

राहुल बजाज के सरकार की आलोचना के बयान पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पलटवार किया है और कहा है कि सरकार आलोचना सुनती भी है और सलाह भी मानती है और कदम भी उठाती है। सोमवार को उन्होंने कहा कि यह कहना गलत है कि नरेंद्र मोदी सरकार आलोचना नहीं सुनती है।

कॉर्पोरेट कर में कटौती से जुड़े संशोधन वाले ‘कराधान विधि (संशोधन) विधेयक 2019’ पर लोकसभा में चर्चा का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि यह सरकार आलोचना सुनती है और सकारात्मक ढंग से जवाब देती है तथा कदम भी उठाती है। मंत्री ने एक आर्थिक समाचार पत्र के कार्यक्रम में उद्योगपति राहुल बाजाज के ‘डर का माहौल’ वाले बयान का हवाला देते हुए कहा कि उस जगह गृह मंत्री (अमित शाह) ने पूरा जवाब दिया और जब भी आलोचना होती है तो यह सरकार सुनती है और जवाब देती है।

उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया में तो कुछ लोगों ने सबसे खराब वित्त मंत्री कह दिया, लेकिन मैंने कुछ नहीं कहा। मंत्री ने कहा कि यह सरकार और प्रधानमंत्री आलोचनाओं को सुनते हैं और सकारात्मक ढंग से जवाब देते हैं। उन्होंने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि सवाल पूछकर भाग जाना कुछ लोगों के डीएनए में है, लेकिन हमारी पार्टी (भाजपा) में ऐसा नहीं है। कुछ सदस्यों की आलोचना का जवाब देते हुए कहा कि वैश्विक हालात को देखते हुए कुछ तत्काल कदम उठाना था और ऐसे में यह अध्यादेश लाना पड़ा।

निर्मला ने कहा कि ऐसा पहली बार नहीं है कि जरूरत पड़ने पर अध्यादेश लाए गए हों। 1991-96 के दौरान 77 अध्यादेश और 2004-09 के दौरान 36 अध्यादेश लाए गए थे।संप्रग सरकार के समय जीडीपी आंकड़ों का हवाला देते हुए मंत्री ने कहा कि पहले भी जीडीपी नीचे गिरकर आगे बढ़ी है।कॉर्पोरेट कर में कटौती से वित्तीय घाटा बढ़ने के कांग्रेस के आरोप को खारिज करते हुए निर्मला ने कहा कि मोदी सरकार वित्तीय घाटे को चार फीसदी के नीचे रखने में सफल रही है।

इसके अलावा उन्होंने कहा कि, ”मुझे बताया गया है कि मैं सबसे खराब वित्त मंत्री हूं, वे मेरा कार्यकाल खत्म होने का इंतजार भी नहीं कर रहे हैं। मैंने उनसे कहा कि कृपया मुझे और विचार दें, हम इस पर काम करेंगे। अगर कोई सरकार है जो सुनती है, तो वह पीएम मोदी की सरकार है।”

(भाषा इनपुट्स के साथ)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 BIOCON सीएमडी किरण मजूमदार शॉ ने कहा- सही बोले राहुल बजाज, FM निर्मला सीतारमण की प्रतिक्रिया गलत
2 संसद के शीत सत्र में महिला सुरक्षा और अपराध पर MHA से सांसदों ने पूछे सिर्फ दो प्रश्न
3 हैदराबाद कांडः जया बच्चन के समर्थन में TMC सांसद मिमी चक्रवर्ती- रेपिस्ट्स को कोर्ट ले जाने की जरूरत नहीं, हो लिंचिंग
जस्‍ट नाउ
X