ताज़ा खबर
 

अब जीमेल में लिखी आपकी चिट्ठी नहीं पढ़ेगा गूगल, 13 साल बाद बदली पॉलिसी

गूगल अब मुफ्त जीमेल इस्तेमाल करने वालों के लिए विज्ञापन का चयन उनके द्वारा गूगल और यूट्यूब इत्यादि पर किए गए सर्च की हिस्ट्री के आधार पर करेगी।

एक कार्यक्रम के दौरान गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई।

जीमेल का इस्तेमाल करने वालों के लिए एक बड़ी खबर है। दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल ने आधिकारिक तौर पर घोषित किया है कि अब वो विज्ञापन देने के लिए उपभोक्ताओं के जीमेल नहीं पढ़ेगा। गूगल द्वारा उपभोक्ताओं को विज्ञापन दिखाने के लिए उनके जीमेल पढ़ना काफी विवादित रहा था। ये फैसला गूगल की विज्ञापन टीम के बजाय उसके क्लाउड टीम की तरफ से आया है। गूगल क्लाउट टीम अपने कॉर्पोरेट ग्राहकों की संख्या बढ़ाने की कोशिश कर रहा है। गूगल की मदर कंपनी अल्फाबेट इंक का गूगल क्लाउड ऑफिस सॉफ्टेवयर (जी सूट) बेचता है। गूगल क्लाउड ने अपने प्रोडक्ट को बाजार के दूसरे प्रोडक्ट के मुकाबले में लाने के लिए ये फैसला लिया है। ऑफिस सॉफ्टवेयर के मामले में गूगल का सबसे बड़ा प्रतिद्व्ंद्वी माइक्रोसॉफ्ट है।

जीमेल की पेड सेवा में पहले से ही विज्ञापनों के लिए उपभोक्ता के ईमेल की स्कैनिंग नहीं की जाती थी लेकिन मुफ्त में जीमेल का इस्तेमाल करने वालों में इसे लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं थी। गूगल की सीनियर वाइस प्रेसिडेंट डायना ग्रीन ने कहा, “हम इस मामले में स्थिति स्पष्ट करने जा रहे हैं।” गूगल ने साफ किया है कि जीमेल के मुफ्त संस्करण में विज्ञापन दिखने जारी रहेंगे लेकिन अब विज्ञापन चुनने के लिए उपभोक्ता के ईमेल नहीं स्कैन किए जाएंगे। गूगल अब ऐसे उपभोक्ताओं को दिखाने के लिए विज्ञापन का चयन उनके द्वारा गूगल और यूट्यूब इत्यादि पर किए गए सर्च की हिस्ट्री के आधार पर करेगी।

HOT DEALS
  • Micromax Dual 4 E4816 Grey
    ₹ 11978 MRP ₹ 19999 -40%
    ₹1198 Cashback
  • Honor 9 Lite 64GB Glacier Grey
    ₹ 16999 MRP ₹ 17999 -6%
    ₹2000 Cashback

गूगल की उपभोक्ताओं के ईमेल को स्कैन करके विज्ञापन दिखाने की नीति की काफी आलोचना होती रही है लेकिन गूगल के विज्ञापन दाताओं को सटीक विज्ञापन दिखाने के लिए ये सुविधा काफी पसंद रही है। गूगल के इस फैसले में ग्रीन की अहम भूमिका रही है। विज्ञापन गूगल की कमायी का सबसे बड़ा स्रोत रहे हैं इसके बावजूद उन्होंने ये कड़ा फैसला लिया। माना जा रहा है कि साल 2015 में गूगल से जुड़ी ग्रीन ने माइक्रोसॉफ्ट और अमेजॉन डॉट कॉम से मुकाबले के लिए अपने क्लाउड कम्प्यूटिंग और सॉफ्टवेयर टूल्स में भारी निवेश किया है।

गूगल की रणनीति में बदलव की घोषणा ग्रीन ने एक ब्लॉग लिखकर की। अपने ब्लॉग में ग्रीन ने लिखा कि जी सूट के 30 लाख से ज्यादा ग्राहक हैं। ग्रीन के अनुसार गूगल ने पिछले एक साल में अपने ग्राहकों की संख्या दोगुनी कर ली है। गूगल द्वारा जारी की गयी जानकारी के अनुसार कंपनी को साल की पहली तिमाही (जनवरी-मार्च) “अन्य स्रोतों” से करीब तीन अरब डॉलर (180 अरब रुपये) की आमदनी हुई थी। हालांकि कंपनी गूगल क्लाउड से होने वाली आय का खुलासा नहीं किया।

वीडियो- सात साल की बच्ची को दिया गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने जवाब

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App