ताज़ा खबर
 

भारतीय सैनिकों की जासूसी के लिए पाकिस्‍तान इस्‍तेमाल कर रहा था SmeshApp, गूगल ने प्‍ले स्‍टोर से हटाया

पठानकोट आतंकी हमले के बाद भारतीय सैनिकों पर किए गए एक स्टिंग ऑपरेशन में इस बात का खुलासा हुआ था।
Author नई दिल्‍ली | March 16, 2016 15:50 pm
SmeshApp के जरिए पाकिस्‍तानी खुफिया एजेंट भारतीय सैनिकों के फोन कॉल्‍स तक सुन रहे थे।

गूगल ने पाकिस्‍तान के SmeshApp को प्‍ले स्‍टोर से हटा दिया है। भारतीय मीडिया में यह खबर दिखाए जाने के बाद गूगल ने यह कदम उठाया है। पाकिस्‍तान के खुफिया एजेंट SmeshApp के जरिए भारतीय सेना के अफसरों के मोबाइल में सेंध लगा रहे थे। पठानकोट आतंकी हमले के बाद भारतीय सैनिकों पर किए गए एक स्टिंग ऑपरेशन में इस बात का खुलासा हुआ था। IBN7 पर खबर दिखाए जाने के कुछ ही घंटों के अंदर गूगल प्ले स्टोर ने Smeshapp नाम के एप्‍प को हटा दिया है। Smesh app की मदद से फौजियों की आपसी बातचीत और मूवमेंट की जानकारी स्टोर की जाती थी।

IBN7 और CNN-IBN7 ने अपने स्टिंग ऑपरेशन पाकिस्तान में खुलासा किया था कि फौज और अर्धसैनिक बलों के 200 से ज्यादा अफसरों को पाकिस्तान किस तरह भारत के खिलाफ हथियार की तरह इस्तेमाल कर रहा है। ये काम मोबाइल फोन को हैक करके किया जा रहा था। रिपोर्ट में दावा किया गया कि भारतीय फौज और अर्धसैनिक बलों के 200 से ज्यादा अफसरों के मोबाइल में मौजूद हर जानकारी इस एप्‍प के जरिए पाकिस्‍तान तक पहुंच रही थी।

Read Also: आठ F-16 को मंजूरी के बाद अमेरिका से 10 और फाइटर प्‍लेन मांग रहा पाकिस्‍तान

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App