scorecardresearch

अच्‍छी बात वो आजम के परिवार से मिले पर मैंने उन्‍हें नहीं भेजा, जयंत चौधरी पर अखिलेश का तंज, शिवपाल पर भी भड़के सपा अध्‍यक्ष

लखनऊः शिवपाल सिंह को लेकर सवाल किया गया तो बोले कि जो बीजेपी के साथ है वो हमारे साथ नहीं है।

azam khan
आजम खान। (एक्सप्रेस फोटो)

आजम खान की उपेक्षा को लेकर यूपी की सियासत में सरगर्मी बढ़ती जा रही है तो सपा प्रमुख अखिलेश यादव लगातार सवालों के दायरे में आ रहे हैं। बुधवार को आरएलडी चीफ जयंत चौधरी ने आजम खान के परिवार से मिले तो एक न्यूज चैनल ने अखिलेश से सवाल किया। उनका कहना था कि मैंने जयंत को आजम खान के परिवार के पास नहीं भेजा।

अखिलेश गुस्से में दिखे। शिवपाल सिंह को लेकर सवाल किया गया तो बोले कि जो बीजेपी के साथ है वो हमारे साथ नहीं है। उनका कहना था कि सपा किसी के दबाव में काम नहीं करती। हम लोगों के हक की आवाज उठाते हैं। जो हमारे साथ है उसका सम्मान करते हैं लेकिन कोई हमारा नेता बीजेपी के पास जाता है तो वो हमारा कैसे हो सकता है। यानि अखिलेश ने साफ कर दिया कि चाचा शिवपाल से अब संबंध ठीक नहीं हैं।

उधर, जयंत की आजम के परिवार से मुलाकात कई सवाल खड़े कर रही है। फिलहाल आजम खान के सपा को अलविदा कहने की आशंकाएं सरगर्म हैं। हालांकि जयंत चौधरी ने इस मुलाकात को पारिवारिक बताया और कहा कि रामपुर आए थे तो उनकी जिम्मेदारी थी कि वो आजम खान के परिजनों से मिलें। आजम खान के रालोद में शामिल होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि सपा के साथ गठबंधन में हैं। इस दौरान जयंत बीजेपी सरकार पर जमकर बरसे। बोले कि योगी ठीक से काम नहीं कर रहे।

गौरतलब है कि आजम खान को लेकर इस समय मुस्लिम समुदाय काफी गुस्से में दिख रहा है। वो सपा चीफ अखिलेश पर नाराज है। ये मामला तब शुरू हुआ जब आजम खान के मीडिया प्रभारी फसाहत अली खां ने कहा कि क्या यह मान लिया जाए कि योगी सही कहते हैं कि अखिलेश जी आप नहीं चाहते कि आजम खान जेल से बाहर आएं।

उनका यहां तक कहना था कि हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष को हमारे कपड़ों से बदबू आती है। हमारे साथ तो वो समाजवादी पार्टी भी नहीं है, जिसके लिए हमने अपने खून का एक-एक कतरा बहा दिया। हमारे नेता मोहम्मद आजम खान ने अपनी जिंदगी सपा को दे दी, लेकिन सपा ने आजम खान के लिए कुछ नहीं किया। इसके बाद ही मुस्लिम समाज के लोगों ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पर निशाना साधना शुरू कर दिया है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट