ताज़ा खबर
 

गोवा का सीएम बनते ही मनोहर पर्रिकर ने साधा कांग्रेस पर निशाना – कोई भी विधायक उनको समर्थन नहीं करना चाहता था

Goa CM, Manohar Parrikar शपथ ग्रहण समारोह: विधानसभा चुनावों में 40 में से 13 सीटें जीतने के बावजूद छोटी पार्टियों के समर्थन से भाजपा गोवा में सरकार बना रही है।

मनोहर पर्रिकर गोवा के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ले चुके हैं।

मनोहर पर्रिकर गोवा के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली। विधानसभा चुनावों में 40 में से 13 सीटें जीतने के बावजूद छोटी पार्टियों के समर्थन से भाजपा गोवा में सरकार बना रही है। उसे महाराष्‍ट्रवादी गोमांतक पार्टी (एमजीपी) और गोवा फॉरवर्ड पार्टी के साथ ही निर्दलीयों का भी समर्थन मिला है। हालांकि कांग्रेस को 17 सीटें मिली थी लेकिन सरकार बनाने के लिए राज्‍यपाल के बुलावे के इंतजार करना उसे भारी पड़ गया।

शपथ ग्रहण यहां  देखिए

 

यहां पढि़ए GOA CM Manohar Parrikar Oath Ceremony Updates:

6.35 pm: गोवा फोर्वर्ड पार्टी (GPF) के नेता प्रभाकर टिबले, महासचिव मोहनदास लोलायेकर और प्रवक्ता प्रशांत नाइक शपथ ग्रहण समारोह में नहीं पहुंचे थे।

6.20 pm: मनोहर पर्रिकर के सीएम बनने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने भी उनको बधाई दी। मोदी ने लिखा, ‘मनोहर पर्रिकर और उनकी टीम को बधाई, गोवा को नई ऊंचाईयों पर लेकर जाने के लिए मैं उन्हें शुभकामनाएं देता हूं।’

6.17 pm: पर्रिकर बोले – मैं मानता हूं कि किसी को पूर्ण बहुमत नहीं था, लेकिन यह चुनाव के बाद हुआ गठबंधन है।

6.10 pm: मनोहर पर्रिकर ने आगे कहा, ‘कांग्रेस को कोई विधायक सपोर्ट नहीं करना चाहता था, गोवा के लिए विकास के लिए बीजेपी को समर्थन दिया।’

6.00 pm: सीएम पद की शपथ लेने के बाद मनोहर पर्रिकर ने कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि अगर कांग्रेस के बाद समर्थन था तो वे लोग गवर्नर के पास क्यों नहीं गए थे।

5.50 pm: बीजेपी को समर्थन देने वाले आठ विधायकों में से सात को मंत्रीपद दिया गया है।

5.45 pm: फिर पांडुरंग मडकैकर ने शपथ ली। वह परिवहन मंत्री रह चुके हैं। उन्होंने इसी साल जनवरी में कांग्रेस छोड़ी थी।

5.43 pm: उनके बाद रोहन खाउंते ने शपथ ली। वह निर्दलीय विधायक हैं। वह गोवा के लिए क्रिकेट और फुटबॉल भी खेल चुके हैं। उनकी उम्र 43 साल है।

5.41 pm: अगला नंबर मनोहर अजगांवकर का था। 63 साल के मनोहर MGP से हैं। वह पहले कांग्रेस और बीजेपी में भी रह चुके हैं।

5.40 pm: उनके बाद विजय सरदेसाई ने शपथ ली। उनका जन्म अर्जंटीना में हुआ है।

5.35: मनोहर के बाद सबसे पहले सुदिन धवलीकर ने शपथ ली। वह 2016 में ही बीजेपी छोड़कर MGP में शामिल हुए थे।

5.25 pm: मनोहर पर्रिकर स्टेज पर पहुंच चुके हैं। वह शपथ ले रहे हैं। पर्रिकर को दो बार शपथ लेनी पड़ी। ऐसा कुछ तकनीकी दिक्कतों की वजह से हुआ था। दरअसल, पर्रिकर ने पहे मंत्री बोल दिया था जिसके बाद नितिन गड़की ने उनको रोका, फिर पर्रिकर फिर से शपथ लेने के लिए गए। पहले उन्होंने मंत्री पद की शपथ ली फिर सीएम पद की।

5.20 pm:

शपथ लेने पहुंचे मनोहर पर्रिकर

5.17 pm: मनोहर पर्रिकर कुछ देर में शपथ लेंगे। कार्यक्रम शुरू हो गया है।

4.30PM: मनोहर पर्रिकर के साथ कुछ मंत्री भी शपथ लेंगे। इसमें एमजीपी, गोवा फॉरवर्ड पार्टी और निर्दलीय विधायक शपथ लेंगे। बताया जाता है कि एमजीपी के सुदीन को डिप्‍टी सीएम बनाया जा सकता है।

4.15PM: गोवा में कांग्रेस के सबसे बड़ी पार्टी बनने के बावजूद उसके सत्‍ता से दूर रह जाने का एक बड़ा कारण गोवा फॉरवर्ड पार्टी है। इस पार्टी ने भाजपा के खिलाफ प्रचार किया और वोट मांगे थे। लेकिन केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने इसमें बड़ी भूमिका निभार्इ। जानिए कैसे गडकरी की रणनीति के आगे कांग्रेस हुई ढेर

4.02PM: गोवा में सरकार बनाने का मौका हाथ से निकलने पर कांग्रेस विधायकों में राज्‍य के पार्टी प्रभारी दिग्विजय सिंह‍ के खिलाफ गुस्‍सा है। एक बैठक में तो विधायकों ने उन्‍हें खूब सुनाया। यहां पढि़ए क्‍या हुआ उस बैठक में

4.00PM: नवंबर 2014 में देश के रक्षा मंत्री बने पर्रिकर उससे पहले दो बार गोवा के सीएम रह चुके थे। आईआईटी बॉम्बे से बीटेक और एमटेक देश के किसी भी राज्य का सीएम बनने वाले पहले आईआईटी स्नातक हैं। मनोहर पर्रिकर कौन हैं, यहां पढि़ए 

3.55PM: गोवा के स्‍थानीय दलों ने मनोहर पर्रिकर को मुख्‍यमंत्री बनाने की शर्त पर ही भाजपा को समर्थन दिया था। पर्रिेकर की राज्‍य में ईमानदार और सादगीपसंद व्‍यक्ति की छवि है। पिछले चुनावों में उन्‍होंने अपनी छवि के दम पर ही भाजपा को सत्‍ता दिलाई थी।

मनोहर पार्रिकर ने गोवा के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली; कहा- "पहले बहुमत साबित करेंगे, फिर विभाग सौंपेगे"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App