ताज़ा खबर
 

कागजी है पीएम मोदी का 56 इंच का सीना, यह टेलीविजन वाली सरकार: गुलाम नबी आजाद

मोहन भागवत के बयान पर गुलाम नबी आजाद ने कहा, ‘‘हमारी सेना कमजोर नहीं है। यह वही सेना है जिसने पूर्व में पाकिस्तान के तीन हमलों का करारा जवाब दिया है। कमी सरकार में है और भागवत जी की सेना की देश को जरूरत नहीं है।"

Author वाराणसी | Updated: February 13, 2018 2:30 PM
Kathua Gangrape, Kathua Gangrape update, article on Kathua Gangrape, Kathua Gangrape inquiry, Congress, Congress and bjp, Congress with bjp, Ghulam Nabi Azad, Ghulam Nabi Azad say, Polarisation, Polarisation of rape, Polarisation in gangrape, National newsकांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद। (पीटीआई फाइल फोटो)

राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 56 इंच के सीने को कागजी बताते हुए सोमवार को केंद्र सरकार को टेलीविजन की सरकार बताया। आजाद वाराणसी में कांग्रेस की तरफ से आयोजित मंडलीय कार्यकर्ता सम्मेलन में प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर के साथ पहुंचे थे। आजाद ने पत्रकारों से कहा, “सीमा पर जितने हमले मोदी सरकार में हुए, इससे ज्यादा कभी नहीं हुए। पिछले 70 वर्षों के इतिहास में मैंने इससे कमजोर सरकार नहीं देखी है।” उन्होंने कहा कि अभी तक तो सिर्फ कश्मीर असुरक्षित था, लेकिन अब तो जम्मू भी सुरक्षित नहीं है।

संघ प्रमुख मोहन भागवत के मुजफ्फरपुर में दिए गए बयान पर आजाद ने कहा, “हमारी सेना कमजोर नहीं है। यह वही सेना है जिसने पूर्व में पाकिस्तान के तीन हमलों का करारा जवाब दिया है। कमी सरकार में है और भागवत जी की सेना की देश को जरूरत नहीं है। वैसे, मोहन भागवत को चाहिए कि वह प्रधानमंत्री को समझाएं, लोगों को बचाएं। उन्हें जाना है सीमा पर तो जाएं, उन्हें रोका किसने है। हम भी उनके साथ चलने के लिए तैयार हैं।”

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार सिर्फ टेलीविजन पर दिखने वाली सरकार है और इसका जमीनी स्तर पर जनता से कुछ लेना-देना नहीं है। कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि भाजपा की सरकार नौजवानों को रोजगार देने में और किसानों का उत्थान करने में असफल रही है। इस सरकार में बेरोजगारी और महंगाई लगातार बढ़ रही है। वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को भाजपा पर समुदायों के बीच वैमनस्यता पैदा करने और आग भड़काने का आरोप लगाया। चुनावी राज्य कर्नाटक में अपने प्रचार के दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर  हमला जारी रखा।

उत्तरी कर्नाटक में अपने प्रचार के तीसरे दिन उन्होंने रैली में आरोप लगाया, “हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान की तरह जहां भी भाजपा सरकार है, वहां पर हिंसा हुई।” उन्होंने आरोप लगाया, “कुछ जगहों पर उन्होंने दलितों, अल्पसंख्यकों और आदिवासियों को मारा। उन्होंने समाज के एक धड़े को दूसरे के खिलाफ कर दिया। हरियाणा में उन्होंने जाटों को गैर जाटों के खिलाफ खड़ा किया। और अब वे यहां आए हैं और हिंसा की बात कर रहे हैं।”

Next Stories
1 कोचिन शिपयार्ड में ONGC टैंकर में धमाका, 5 की मौत और 13 घायल
2 वीडियो: कर्नाटक में मंच पर पहुंचे राहुल गांधी और माइक ने दे दिया धोखा, देखिए उनका रिएक्शन
3 प्रणय रॉय ने पीएम नरेंद्र मोदी को लिखा- एनडीटीवी के खिलाफ झूठी मुहिम चला रहे हैं सुब्रमण्‍यम स्‍वामी
आज का राशिफल
X