ताज़ा खबर
 

कांग्रेस के नेता आजाद द्वारा RSS की ISIS से तुलना करने वाले बयान का बदला संसद में लेगी BJP

भाजपा कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद के उस विवादित बयान का मुद्दा संसद में उठाने की तैयारी में है जिसमें उन्होंने आरएसएस की तुलना आतंकी संगठन आईएसआईएस से की थी।

Author नई दिल्ली | March 14, 2016 5:19 AM
संसद में उठेगा गुलाब नबी आजाद के बयान का मुद्दा

भाजपा कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद के उस विवादित बयान का मुद्दा संसद में उठाने की तैयारी में है जिसमें उन्होंने आरएसएस की तुलना आतंकी संगठन आईएसआईएस से की थी।

 पार्टी सूत्रों का कहना है कि कुछ सदस्य ये मुद्दा उठाएंगे और आजाद से माफी की मांग करेंगे। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि आरएसएस की तुलना किसी भी तरह से आईएसआईएस करना ‘अस्वीकार्य’ है।

राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष आजाद ने कल मुस्लिम संगठन जमीयत उलेमा-ए-हिंद की ओर से आयोजित ‘राष्ट्रीय एकता सम्मेलन’ में कहा, ‘हम मुसलमानों के बीच भी ऐसे लोगों को देखते हैं कि जो मुस्लिम देशों की तबाही की वजह बन गए हैं। इनके पीछे कुछ ताकते हैं। परंतु हमें यह समझने की जरूरत है कि मुसलमान इसमें क्यों शामिल हो रहे हैं, वे क्यों फंसते जा रहे हैं?’

आजाद ने कहा, ‘इसलिए, हम आईएसआईएस जैसे संगठनों का उसी तरह विरोध करते हैं जैसे आरएसएस का विरोध करते हैं। अगर इस्लाम में ऐसे लोग हों जो गलत चीजें करते हैं, तो वे आरएसएस से किसी तरह कम नहीं हैं।’ उनके बयान पर आरएसएस के एक प्रवक्ता ने नागौर से कहा, ‘आजाद की ओर से आईएसआईएस की आरएसएस से तुलना करना कांग्रेस के बौद्धिक दिवालियेपन और आईएसआईएस जैसी कट्टरपंथी एवं निर्मम ताकतों से निपटने की उसकी अनिच्छा को दर्शाता है।’ उन्होंने कहा कि आरएसएस इस मामले में कानूनी कार्रवाई पर भी विचार करेगी।

HOT DEALS
  • Samsung Galaxy J6 2018 32GB Gold
    ₹ 12990 MRP ₹ 14990 -13%
    ₹0 Cashback
  • Apple iPhone 7 32 GB Black
    ₹ 41999 MRP ₹ 52370 -20%
    ₹6000 Cashback

भाजपा के राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा ने आजाद के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए कल कहा, ‘आरएसएस एक राष्ट्रवादी संगठन है। यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि उन्होंने ऐसा कहा है। यह उनके मानसिक दिवालियेपन को दिखाता है। उनको माफी मांगनी चाहिए या फिर सोनिया गांधी को उनके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App