ताज़ा खबर
 

दीवार पर 500 रुपए चिपका कर लिखा- सबको एक चिता पर ही जलाना, दो बच्चों को मारकर पत्नी और एक औरत के साथ कूद गया

पुलिस के मुताबिक गुलशन वासुदेव (45), उनकी पत्नी परवीना (43), और संजना (38) ने शाम करीब 4.30 बजे आठवें मंजिल के अपने अपार्टमेंट से कूदकर जान दे दी।

Author नई दिल्ली | Updated: December 4, 2019 9:19 AM
बालकनी पर तीन कुर्सियां जिन्हें कथित तौर पर आठवीं मंजिल से कूदने के लिए इस्तेमाल किया गया था। (Express Photo by Prem Nath Pandey)

गाजियाबाद के इंदिरापुरम इलाके से एक ऐसी खबर सामने आई है, जिससे पूरे इलाके में हड़कंप मचा हुआ है और हर ओर इसी घटना की चर्चा कर रहा है। यहां स्थित कृष्णा अपरा सफायर सोसाइटी में मंगलवार सुबह एक ही परिवार के चार लोगों समेत पांच लोगों की मौत हो गई। इनमें दो बच्चों की गला दबाकर हत्या की गई, जबकि पति-पत्नी और एक महिला ने 8वीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के मुताबिक गुलशन वासुदेव (45), उनकी पत्नी परवीना (43), और संजना (38) ने शाम करीब 4.30 बजे आठवें मंजिल के अपने अपार्टमेंट से कूदकर जान दे दी।

दंपति के बच्चे ऋतिक (13) और कृतिका (18) अपने बिस्तर में मृत पाए गए, पुलिस को शक है कि गुलशन ने उन्हें नींद में ही गला घोटकर मार दिया था। गाजियाबाद के एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि गुलशन और परवीना को अस्पताल पहुंचने पर मृत घोषित कर दिया गया जबकि संजना की इलाज के दौरान मौत हो गई। फ्लैट में, हमें दो बच्चों के शव मिले और एक दीवार पर एक सुसाइड नोट मिला, जिसमें आत्महत्या-हत्या के पीछे वित्तीय कारण बताया गया था।

पुलिस ने कहा कि संजना ने गुलशन द्वारा संचालित एक जींस फैक्ट्री में मैनेजर थीं। परिवार के साथ संजना के सम्बन्धों के बारे में पुलिस और पता लगा रही है। सोमवार रात 9 बजे के आसपास, कर्मचारियों ने संजना को बिल्डिंग में प्रवेश करते हुए देखा था। मंगलवार की सुबह, ए ब्लॉक के प्रवेश पर एक गार्ड ने निरीक्षण के दौरान तीन लोगों को खून से लथपथ पाया। जिसके बाद तुरंत पुलिस को फोन लगाया गया और तीनों को अस्पताल ले जाया गया। फ्लैट में पुलिस को खून से लथपथ दो और शव मिले, जिनके चारों ओर कंबल लपेटे हुए थे। जबकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट 48 घंटे में आने की उम्मीद है, पुलिस ने कहा कि प्रथम दृष्टया यह प्रतीत होता है कि भाई-बहनों का गला घोंटा गया था और बेटे का गला काटा गया था।

बच्चों के कमरे की दीवार पर एक पेंसिल से सुसाइड नोट लिखा गया था, जिसमें पांच मौतों के लिए एक रिश्तेदार को दोषी ठहराया गया है। परिवार ने पुलिस को बताया कि रिश्तेदार ने 2015 में एक रियल एस्टेट सौदे में कथित रूप से गुलशन को 2 करोड़ रुपये का धोखा दिया था। पुलिस ने कहा कि वे इस दावे का सत्यापन कर रहे हैं।

पुलिस के अनुसार, गुलशन ने अपने अंतिम क्षणों में एक छोटी सी टीवी टेबल पर चढ़कर दीवार पर लिखने के लिए एक पेंसिल का इस्तेमाल किया। सुसाइड नोट के साथ उन्होंने 500 रुपये का नोट और इसके साथ कुछ बाउंस चेक भी चिपके मिले। दीवार पर लिखा है कि ‘हमारी तमन्ना है कि लाशों को एक साथ जलाएं…’इसके अलावा लिखा था कि ये रुपय उन सब के अंतिम क्रिया-कर्म के हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 एसडीएम कोर्ट में सामूहिक रूप से पढ़ी गई कुरान, Video वायरल हुआ तो डीएम ने लिया एक्शन, क्लर्क सस्पेंड
2 सुप्रीम कोर्ट में आई अजब याचिका, दशहरे पर बार-बार रावण दहन को बताया ‘अशुभ प्रथा’, जजों ने दिया यह जवाब
3 कांग्रेसी विधायक ने विधानसभा परिसर में ब्लेड से काट ली कलाई, खून से लिखा नारा
जस्‍ट नाउ
X