ताज़ा खबर
 

सुपर-30 के आनंद कुमार की मुश्किलें बढ़ीं, HC ने लगाया 50 हजार रुपए का जुर्माना

छात्रों ने आरोप लगाया कि जब देश के विभिन्न हिस्सों से छात्र पटना में सुपर 30 में एडमिशन लेने जाते हैं, तो उन्हें एक अन्य इंस्टीट्यूट रामानुजन स्कूल ऑफ मैथमैटिक्स में एडमिशन दिया जाता है और उनसे ट्यूशन फीस के तौर पर 33,000 रुपए चार्ज किए जाते हैं।

anand kumarसुपर 30 के संस्थापक आनंद कुमार। (फाइल फोटो)

सुपर 30 के आनंद कुमार पर गुवाहटी हाईकोर्ट ने 50,000 रुपए का जुर्माना लगाया है। दरअसल आनंद कुमार कोर्ट के नोटिस के बावजूद कोर्ट में दाखिल नहीं हुए। जिसके चलते कोर्ट ने उनपर जुर्माना लगाया है। अब कोर्ट ने आनंद कुमार को 28 नवंबर की अगली तारीख पर कोर्ट में पेश होने के निर्देश दिए हैं। बता दें कि गुवाहटी हाईकोर्ट में आईआईटी-गुवाहटी के 4 छात्रों ने आनंद कुमार के खिलाफ पीआईएल (पब्लिक इंटरेस्ट लिटिगेशन) दाखिल की थी। पीआईएल में छात्रों ने आनंद कुमार पर ‘धोखा’ करने का आरोप लगाया था।

मामले की सुनवाई के दौरान बीती 19 नवंबर को कोर्ट ने आनंद कुमार को 26 नवंबर को यानि कि आज कोर्ट में पेश होने के निर्देश दिए थे। आनंद कुमार, पटना में सुपर-30 नाम से कोचिंग इंस्टीट्यूट चलाते हैं और गरीब और कमजोर आर्थिक वर्ग के बच्चों को आईआईटी की तैयारी कराने के लिए जाने जाते हैं। याचिकाकर्ताओं ने आरोप लगाया है कि आनंद कुमार गरीब बच्चों की मदद करते हैं, यह गलत अवधारणा है।

छात्रों ने आरोप लगाया कि जब देश के विभिन्न हिस्सों से छात्र पटना में सुपर 30 में एडमिशन लेने जाते हैं, तो उन्हें एक अन्य इंस्टीट्यूट रामानुजन स्कूल ऑफ मैथमैटिक्स में एडमिशन दिया जाता है और उनसे ट्यूशन फीस के तौर पर 33,000 रुपए चार्ज किए जाते हैं। छात्रों ने आरोप लगाया कि आनंद कुमार द्वारा 2008 के बाद से कोई सुपर 30 क्लास नहीं चलायी जा रही हैं, लेकिन हर साल वह मीडिया में आकर रामानुजन स्कूल ऑफ मैथेमेटिक्स के छात्रों को सुपर 30 का बताकर परीक्षा पास करने की जानकारी देते हैं।

बीते साल भी आनंद कुमार ने सुपर 30 के 26 छात्रों के आईआईटी-जेईई परीक्षा क्लीयर करने की जानकारी दी थी, लेकिन उन्होंने किसी का नाम नहीं बताया। छात्रों की याचिका पर अदालत ने बीते साल आनंद कुमार और वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी अभयानंद को नोटिस जारी किया था। बता दें कि सुपर 30 की शुरुआत आनंद कुमार और आईपीएस अधिकारी अभयानंद ने साल 2002 में की थी।

हालांकि साल 2008 में दोनों के रास्ते अलग हो गए थे। नोटिस पर अभयानंद ने अदालत में हलफनामा दायर कर बताया कि 2008 के बाद से उनका सुपर 30 से कोई संबंध नहीं रहा है। ऐसे में कोर्ट ने आगामी 28 नवंबर को आनंद कुमार को अदालत में पेश होने के लिए नोटिस जारी किया है।

Next Stories
1 रिपोर्ट में दावा- कर्मचारियों की छंटनी आसान कराने वाला लेबर कोड लोकसभा में पेश करेगी मोदी सरकार
2 देवेंद्र फड़णवीस के इस्तीफे के बाद उद्धव ठाकरे ने बेटे आदित्य को लगाया गले, बाल ठाकरे के ‘साये’ में थे दोनों
3 ऐसे चाणक्‍य की तो दाद देते हैं- कप‍िल स‍िब्‍बल ने ऐसे मारा अम‍ित शाह पर ताना
यह पढ़ा क्या?
X