ताज़ा खबर
 

ऐसे लोग ही कर रहे रेपिस्टों की मदद, तभी थम नहीं रहे रेप’, इंदिरा जयसिंह पर बिफरीं दिल्ली गैंगरेप पीड़िता की मां

दरअसल साल 1991 में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या में भूमिका के लिए नलिनी को गिरफ्तार किया गया था और उसे दोषी ठहराया गया था। बाद में सोनिया गांधी ने नलिनी को माफ कर दिया था।

इंदिरा जयसिंह सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ वकील हैं। फोटो क्रेडिट- (Indian Express, Tashi Tobgyal)

दिल्ली के चर्चित गैंगरेप पीड़िता की मां ने वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह को खरी-खोटी सुनाई है। पीड़िता की मां ने कहा है कि ‘सुप्रीम कोर्ट में उनसे कई बार मुलाकात हुई…एक बार भी उन्होंने मेरा हालचाल नहीं पूछा और आज वो दोषियों के लिए बोल रही हैं। ऐसे लोग ही रेपिस्टों की मदद कर रहे हैं, तभी रेप नहीं थम रहे हैं।’ पीड़िता की मां ने आगे कहा है ‘कि इस मामले में राय देने वाली इंदिरा जयसिंह हैं कौन? पूरा देश चाहता है कि दोषियों को सजा दी जाए…लेकिन उनके जैसे लोगों की वजह से ही रेप पीड़िताओं के साथ न्याय नहीं हो पाता है।’

आपको बता दें कि इंदिरा जयसिंह ने रेप पीड़िता की मां से अपील किया था कि वो उनकी बेटी के रेपिस्टों को माफ कर दें और इसके लिए उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का उदाहरण दिया था। सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह ने ट्वीट करके कहा था कि ‘मैं उनसे सोनिया गांधी के उदाहरण का अनुसरण करने का आग्रह करती हूं, जिन्होंने राजीव गांधी की हत्या के मामले में दोषी नलिनी को माफ कर दिया और कहा कि वह मृत्युदंड नहीं चाहती। हम आपके साथ हैं लेकिन मृत्युदंड के खिलाफ हैं।’

दरअसल साल 1991 में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या में भूमिका के लिए नलिनी को गिरफ्तार किया गया था और उसे दोषी ठहराया गया था। बाद में सोनिया गांधी ने नलिनी को माफ कर दिया था। दिल्ली की एक अदालत द्वारा गैंगरेप केस के चार दोषियों की फांसी की तारीख टालने पर रेप पीड़िता की मां ने निराशा व्यक्त की थी। इसके कुछ देर बाद इंदिरा जयसिंह ने उनसे ये अनुरोध किया तो इसी पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए रेप पीड़िता की मां ने कहा है कि वह दोषियों के पक्ष में ऐसा कैसे बोल सकती हैं।

दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने गैंगरेप केस के चारों दोषियों विनय, मुकेश, पवन और अक्षय के लिए नया डेथ वारंट जारी किया है। अब इन सभी दोषियों को 1 फरवरी को फांसी दी जाएगी। पहले इन्हें 22 जनवरी को फांसी दी जानी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Shaheen Bagh Protest on NRC-CAA: दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस से कहा- जल्द हल करें समस्या, रोड ब्लॉक से लोग परेशान
2 Delhi Assembly Election 2020: टिकट कटा तो नाराज हो उठे भाजपायी समर्थक, हाथों में पार्टी का झंडा थाम जेपी नड्डा के घर के बाहर हुड़दंग
3 बंगाल: ‘जो बुद्धिजीवी कर रहे CAA का विरोध, वो परजीवी राक्षस हैं’, बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष के बोल
ये पढ़ा क्या?
X