ताज़ा खबर
 

‘कोई बेवकूफ मेरे खिलाफ नहीं चला सकता केस, मैं परम शिव हूं’ Video जारी कर बोला नित्यानंद, उड़ाया कोर्ट का मजाक

कई मामलों में आरोपी नित्यानंद का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में वह न्याय व्यवस्था का मजाक उड़ाते हुए नजर आ रहा है। उसने कहा कि कोई बेवकूफ कोर्ट मेरे खिलाफ केस नहीं दर्ज कर सकता है, क्योंकि मैं परम शिव हूं।

Author नई दिल्ली | Published on: December 9, 2019 4:49 PM
नित्यानंद। फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस

कई मामलों में आरोपी नित्यानंद का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। इसमें वह न्याय व्यवस्था का मजाक उड़ाता नजर आ रहा है। साथ ही, कह रहा है कि कोई बेवकूफ कोर्ट उसके खिलाफ केस नहीं चला सकता, क्योंकि वह परम शिव है। बता दें कि कई आरोप लगने के बाद सरकार ने नित्यानंद का पासपोर्ट रद्द कर दिया था। हालांकि, गिरफ्तारी से पहले ही वह फरार हो गया। इस बीच खबर आई थी कि उसने एक देश बना लिया है, जिसका अलग पासपोर्ट, झंडा, विधान व संविधान है। इसका नाम कैलासा रखा गया है, जो लैटिन अमेरिका में इक्वाडोर के पास स्थित है।

सोशल मीडिया पर वायल हो रहा वीडियो: गौरतलब है कि नित्यानंद बच्चों के अपहरण समेत कई गंभीर अपराधों में वांछित है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में वह कहते हुए सुना जा सकता है कि लोगों ने मुझ पर भरोसा जताया है। मैं भी उन्हें सच दिखाकर यकीन दिलाऊंगा। मुझे कोई भी छू नहीं सकता, क्योंकि मैं परम शिव हूं।

Hindi News Today, 09 December 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक 

बिना पासपोर्ट भाग गया नित्यानंद: आरोप है कि खुद को भगवान बताने वाला नित्यानंद बिना पासपोर्ट देश से भाग गया था। उसने यह कदम तब उठाया था, जब अधिकारियों ने पासपोर्ट रिन्युअल की उसकी एप्लिकेशन रद्द कर दी थी।

Karnataka Hunasur, Yellapur, Shivaji Nagar, Hoskote By-Election Results 2019 LIVE Updates 

विदेश मंत्रालय ने दी थी यह जानकारी: हालांकि, एक्सटर्नल अफेयर मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया, ‘‘सभी भारतीय मिशनों व पोस्टों को दूसरे देशों की सरकारों को जानकारी देने के लिए कहा गया है। इससे नित्यानंद को ट्रेस किया जा सकता है।’’

नित्यानंद ने बनाया अपना देश! गौरतलब है कि कुछ समय पहले दावा किया था कि उसने एक देश बना लिया है, जिसका नाम कैलासा भी है। इस देश की अपनी वेबसाइट भी है। वहीं, इक्वाडोर के दूतावास ने एक बयान में साफतौर पर इनकार किया है कि उन्होंने नित्यानंद को शरण दी है या साउथ अमेरिका में और इक्वाडोर के पास जमीन या आइलैंड खरीदने में मदद की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 नागरिकता संशोधन बिल: शिया मुसलमानों को भी दायरे में लाना चाहते हैं वसीम रिजवी, अमित शाह को लिखी चिट्ठी
2 आडवाणी और बाबरी विध्वंस पर किया आपत्तिजनक पोस्ट, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र व एलुमिनाई पर केस
3 INDIAN RAILWAYS: तीन साल के बच्चों पर भी टिकट लगाने की तैयारी? जानें कमाई बढ़ाने के लिए सीएजी ने क्या दिया सुझाव
ये पढ़ा क्या?
X