ताज़ा खबर
 

पेट्रोल के बढ़ते दाम लोगों को “उकसा” रहे- बोले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी

गडकरी का मंत्रालय आने वाले वक्त में फ्लेक्स-फ्यूल्स इंजन्स से जुड़ी नीति का ऐलान भी कर सकता है, जो कि ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स को उन्हें बनाने के लिए बढ़ावा देगी। ऐसे इंजन एक से अधिक ईंधन और ईंधन के मिश्रण पर भी चल सकते हैं।

तेल के दाम पर केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी की यह टिप्पणी रविवार को एक कार्यक्रम के दौरान आई। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि पेट्रोल के बढ़ती कीमतें लोगों को अब हैरान-परेशान कर रही हैं।

यह बात उन्होंने रविवार (12 जुलाई, 2021) को महाराष्ट्र के नागपुर में देश के पहले कमर्शियल लिक्विफाइड नेचुरल गैस (एलएनजी) फिलिंग स्टेशन के उद्घाटन के दौरान कही। उनके मुताबिक, “एलएनजी, सीएनजी और ऐथनॉल सरीखे वैकल्पिक ईंधनों के अधिक इस्तेमाल पेट्रोल की बढ़ती कीमतों से राहत दिलाएगा, जो कि अब लोगों को “उकसा” रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “ऐथनॉल को गाड़ियों को ईंधन के तौर पर इस्तेमाल पेट्रोल की तुलना में कम कैलोरी मान के बावजूद कम से कम 20 रुपए प्रति लीटर बचाने में मदद करेगा।” गडकरी का मंत्रालय आने वाले वक्त में फ्लेक्स-फ्यूल्स इंजन्स से जुड़ी नीति का ऐलान भी कर सकता है, जो कि ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स को उन्हें बनाने के लिए बढ़ावा देगी। ऐसे इंजन एक से अधिक ईंधन और ईंधन के मिश्रण पर भी चल सकते हैं।

इस साल 69 बार बढ़े तेल के दाम- कांग्रेस का दावा, BJP शासित सूबे के मंत्री ने कहा- जिंदगी में परेशानी ही सुख का आनंद देती है

मंत्री आगे बोले कि ऐथनॉल, मेथनॉल और बायो-सीएनजी जैसे स्वदेशी ईंधन बाहर से आने वाले क्रूड ऑइल (कच्चे तेल) को कड़ी टक्कर देंगे और हमारे उपभोक्ताओं के लिए सबसे बढ़िया कीमत (बजट के लिहाज से) हासिल करने का यही एकमात्र तरीका है।

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि उन्होंने सरकार से अपील की है कि वह पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस के क्षेत्र का निजीकरण कर दे, जो कि पहले ही खोला जा चुका है।

उनके अनुसार, “अब हमने इस क्षेत्र की सभी निजी कंपनियों, जिनमें पीएसयू भी शामिल हैं, को न्यौता दिया है। यहां तक कि आप एलएनजी का भी आयात कर सकते हैं।” वह यह भी बोले कि हमारी अर्थव्यवस्था में हम आठ लाख करोड़ रुपए पेट्रोल-डीजल और अन्य पेट्रोलियम उत्पादों के आयात के लिए खर्चते हैं, जो कि एक बड़ी चुनौती है…राष्ट्रवादी होने के नाते मैं चाहता हूं कि हमारा आयात कम होना चाहिए और निर्यात बढ़ना चाहिए।

Next Stories
1 जनसंख्या असंतुलित करने में आमिर खान सरीखे लोगों का हाथ- BJP सांसद का बयान; लोग गिनाने लगे भाजपा नेताओं के परिवार की संख्या
2 पूरे देश में छाया मानसून; दिल्ली के कई हिस्सों में झमाझम बारिश
3 हो गया मोहभंग? शत्रुघ्न के TMC में जाने की अटकल; मित्रा छोड़ सकते हैं बंगाल FM पद
ये पढ़ा क्या?
X