ताज़ा खबर
 

रतन टाटा के निवेश वाली कंपनी दे रही कारोबार का मौका, फ्रेंचाइजी लेकर कर सकते हैं मोटी कमाई

जेनेरिक आधार नाम की कंपनी में देश के सफल कारोबारी रतन टाटा ने निवेश किया है। यह कंपनी देश के 300 शहरों में फ्रेंचाइजी बांट रही है।

स्टार्टअप में निवेश करते हैं रतन टाटा (Photo-Indian Express )

कोरोना महामारी के दौरान बड़ी संख्या में लोगों को अपनी नौकरी से हाथ गंवाना पड़ा है। इस दौरान जीवनयापन के लिए बड़ी संख्या में लोगों ने दूसरे कामों में हाथ आजमाया है। इसमें छोटे-मोटे कारोबार भी शामिल हैं। कई लोगों ने स्थापित कंपनियों की फ्रेंचाइजी लेकर भी अपना कारोबार शुरू किया है।

यदि आप भी अपना कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो आज हम आपको एक ऐसी कंपनी के बारे में बताने जा रहे हैं जो फ्रेंचाइजी दे रही है। इस कंपनी का नाम जेनेरिक आधार है और यह कंपनी मेडिकल स्टोर की फ्रेंचाइजी देती है। इसकी फ्रेंचाइजी लेने का फायदा ये है कि जेनेरिक आधार अपने पार्टनर्स को 40% तक का मार्जिन देती है। जबकि अन्य बड़ी कंपनियां केवल 15 से 20% तक का ही मार्जिन देती हैं। खास बात यह है कि जेनेरिक आधार में देश के सबसे सफल कारोबार रतन टाटा ने भी निवेश किया है।

कैसे मिलेगी फ्रेंचाइजी?: यदि आप जेनेरिक आधार की फ्रेंचाइजी लेना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कंपनी की वेबसाइट पर जाकर Business Opportunity पर क्लिक करना होगा। नीचे स्क्रॉल करने पर आपको एक फॉर्म दिखेगा। इस फॉर्म में अपना नाम, मोबाइल नंबर, ई-मेल आई़डी और शहर जैसी जानकारी सबमिट करनी होगी। इसके बाद Send बटन पर क्लिक करना होगा। इसके अलावा आप कंपनी के नंबर्स पर फोन करके फ्रेंचाइजी के संबंध में जानकारी ले सकते हैं। पश्चिमी भारत के राज्यों के लोग फोन नंबर 9653373636 पर कॉल कर सकते हैं। यदि आप उत्तर भारत में रहते हैं तो फोन नंबर 9653373640 पर कॉल कर सकते हैं। पूर्वी भारत के लोग फोन नंबर 9653373641 पर कॉल कर सकते हैं। दक्षिण भारत के निवासी फोन नंबर 9653373639 पर कॉल करके जानकारी ले सकते हैं।

कितना निवेश करना होगा?: कंपनी की वेबसाइट पर उपलब्ध एक वीडियो के मुताबिक, फ्रेंचाइजी लेने वालों को 1 लाख रुपए का निवेश करना होगा। इस पर 18% का जीएसटी भी देना होगा। इस राशि में कंपनी जेनेरिक आधार के ग्लो साइनिंग बोर्ड, ब्रांडिंग स्टीकर, फार्मासिस्ट एप्रेन, सॉफ्टवेयर और अन्य टेक्नीकल सपोर्ट उपलब्ध कराती है। जल्द ही जेनेरिक आधार ऑनलाइन ऐप लेकर आ रही है। इसके बाद देशभर के जेनेरिक आधार एक प्लेटफॉर्म पर जुड़ जाएंगे।

700 तरह की जेनेरिक दवाएं उपलब्ध कराती है कंपनी: जेनेरिक आधार अपने फ्रेंचाइजी पार्टनर को 700 से ज्यादा प्रकार की जेनेरिक दवाएं उपलब्ध कराती है। कंपनी का लक्ष्य देश के 300 शहरों में 30 हजार से ज्यादा आउटलेट खोलने का है। जेनेरिक आधार अब तक देश के 18 राज्यों के 130 शहरों तक पहुंच गई है। इसके अलावा कंपनी ऑनलाइन फार्मेसी पर भी फोकस कर रही है। जेनेरिक आधार की स्थापना अर्जुन देशपांडे ने 18 साल की उम्र में की थी। इसका मुख्यालय मुंबई में है। अर्जुन देशपांडे देश के सबसे कम उम्र के एंटरप्रेन्योर में से एक हैं।

गैर-फार्मासिस्ट भी ले सकते हैं फ्रेंचाइजी: कंपनी का कहना है कि यदि आप फार्मासिस्ट नहीं हैं तो भी फ्रेंचाइजी ले सकते हैं। हालांकि, फ्रेंचाइजी के संचालन के लिए आपको अपने स्टोर में फार्मासिस्ट तैनात करना होगा। फ्रेंचाइजी लेने की प्रक्रिया में कंपनी के प्रतिनिधि आपकी पूरी मदद करेंगे। कंपनी का कहना है कि फार्मा सेक्टर पर मंदी का कोई असर नहीं होता है। इस कारण इस सेक्टर में कमाई के भरपूर अवसर है। हालांकि, कंपनी न्यूनतम या अधिकतम कमाई के बारे में कोई दावा नहीं करती है।

Next Stories
1 Redmi ने लॉन्च किया भारत का सबसे सस्ता 5G फोन, कीमत कर देगी हैरान
2 6,000mAh बैटरी के साथ POCO लाया नया बजट फोन, जानें कीमत और अन्य स्पेसिफिकेशन
3 पेगासस केस पर संसद में संग्राम! दोनों सदनों की कार्यवाही स्थगित; PM बोले- विपक्ष को अपनी नहीं हमारी चिंता, फैला रही भ्रम
ये पढ़ा क्या?
X