ताज़ा खबर
 

पठानकोट में देखे गए चार संदिग्‍ध व्‍यक्ति, सर्च ऑपरेशन जारी

पठानकोट एयरबेस पर इस साल जनवरी में जैश-ए-मोहम्‍मद के आतंकियों ने हमला किया था।
पठानकोट हमले की जिम्‍मेदारी लेने वाले आतंकी संगठन जैश ए मोहम्‍मद ने नवाज शरीफ को चेतावनी दी है कि भारत के कहने पर उनके आतंकियों के खिलाफ कोई कार्रवाई न की जाए।

पंजाब के पठानकोट में चार संदिग्‍धों को देखे जाने की खबर है। एएनआई की खबर के अनुसार, क्षेत्र में फेंकी गई आर्मी की यूनिफॉर्म मिली है। सुरक्षा बल इलाके में सर्च ऑपरेशन चला रहे हैं। पठानकोट के एसएसपी राकेश कौशल ने न्‍यूज एजेंसी एएनआई को बताया, ”हमने पूरे इलाके को तीन घंटे तक खंगाला, लेकिन अभी तक कुछ नहीं मिला है। ऑपरेशन जारी है। मैंने आर्मी, एयर फोर्स को इस सम्‍बंध में अलर्ट कर दिया है। कुछ संदिग्‍ध लोगों के हथियारों के मूवमेंट की खबर मिली थी, हमने चांस नहीं लिया और तुरंत बड़े पैमाने पर सर्च ऑपरेशन शुरू किया।”

पठानकोट एयरबेस पर इस साल जनवरी में जैश-ए-मोहम्‍मद के आतंकियों ने हमला किया था। 80 घंटे से ज्‍यादा वक्‍त तक चली मुठभेड़ में सात सुरक्षाकर्मी मारे गए थे। पठानकोट से पहले, महाराष्ट्र में रायगढ़ जिले के उरन में नौसेना अड्डे के समीप संदिग्ध अवस्था में कुछ लोगों के समूह को देखे जाने के बाद गुरुवार को मुम्बई तट और आसपास के क्षेत्रों में हाई अलर्ट जारी किया गया था। तब, विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों के संदिग्धों की तलाशी अभियान में लगाया गया था। मुंबई पुलिस ने महाराष्ट्र के उरण में दिखे गए संदिग्ध का स्केच जारी किया था।

पिछले रविवार (18 सितंबर) को जम्मू-कश्मीर के उरी में सेना के ऊपर आतंकियों ने हमला किया था जिसमें 18 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद आर्मी ने बॉर्डर पर सुरक्षा बढ़ा दी है। कई जगहों पर घुसपैठ की कोशिशों को भी सेना ने नाकाम किया है। उरी में घुसपैठ की कोशिश कर रहे 15 आतंकियों पर सेना ने फायरिंग की थी जिसमें से 10 आंतकी मारे गए थे बाकी 5-6 आतंकी वापस भाग गए थे। इसके बाद से भारत के लोगों में पाकिस्तान को लेकर गुस्सा है। इसके बाद भारत ने उरी सेक्टर से ही दो लोगों को पकड़ा था। दोनों ही POK के नागरिक थे। दोनों पर आरोप लगा था कि वे आतंकियों के लिए गाइड का काम करते थे।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App