ताज़ा खबर
 

गौतम गंभीर ने रजत शर्मा पर उठाए सवाल, अपने नाम पर क्रिकेट स्टैंड में देरी से नाराज, अफसरों ने जल्दबाजी में बना दिए ‘दो’ स्टैंड

लंबे समय तक घरेलू क्रिकेट में दिल्ली की तरफ से खेलने वाले गंभीर डीडीसीए के कामकाज से संतुष्ट नहीं दिखे। उन्होंने उत्तरी स्टैंड का नाम खुद के नाम पर नाम रखे जाने में हुई देरी पर सवाल उठाते हुए परोक्ष रूप से रजत शर्मा पर निशाना साधा।

अपने नाम के स्टैंड का उद्घाटन करते हुए गौतम गंभीर। (ट्विटर)

फिरोज शाह कोटला में आखिरकार भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज और भाजपा सांसद गौतम के नाम का स्टैंड बन गया। गंभीर ने मंगलवार (26 नंवबर, 2019) को खुद इस स्टैंड का उद्घाटन किया। हालांकि कार्यक्रम उस वक्त गौण बन गया जब पूर्व खिलाड़ी ने डीडीसीए में वर्तमान कुव्यवस्था की आलोचना की। वो यहीं नहीं रुके उन्होंने डीडीसीए के अध्यक्ष रजत शर्मा की भी खूब आलोचना की। बता दें कि रजत शर्मा को पिछले साल जुलाई में अध्यक्ष पद पर नियुक्त किया गया था मगर उन्होंने इस महीने त्यागपत्र पत्र दे दिया। हालांकि लोकपाल ने उनका त्यागपत्र स्वीकार नहीं किया और पद से बने रहने के लिए कहा।

दरअसल लंबे समय तक घरेलू क्रिकेट में दिल्ली की तरफ से खेलने वाले गंभीर डीडीसीए के कामकाज से संतुष्ट नहीं दिखे। उन्होंने उत्तरी स्टैंड का नाम खुद के नाम पर नाम रखे जाने में हुई देरी पर सवाल उठाते हुए परोक्ष रूप से रजत शर्मा पर निशाना साधा। एक सवाल के जवाब में लंबे समय तक दिल्ली की टीम के कप्तान रहे गंभीर ने कहा, ‘मुझे लगता है कि अध्यक्ष इस सवाल का बेहतर जवाब दे सकते हैं क्योंकि पहले मुझे बताया गया था कि स्टैंड का उद्घाटन भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया खेल (मार्च में) के दौरान किया जाएगा। फिर कहा गया कि आईपीएल के पहले मैच में इसे पूरा कर लिया जाएगा। फिर कहा गया कि लोकल टूर्नामेंट के दौरान इसे अमल में लाया जाएगा।’

खास बात है कि पिछले दिनों भी स्टैंड निर्माण में देरी पर गंभीर ने डीडीसीए अध्यक्ष सहित अधिकारियों के कामकाज खूब सवाल उठाए थे। इससे जल्दबाजी में अधिकारी ने गंभीर के नाम पर दो स्टैंड बनवा दिए। हालांकि बाद में इस गलती को ठीक कर लिया गया। दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट असोसिएशन (डीडीसीए) की एपेक्स काउंसिल ने इस साल जून में गौतम गंभीर स्टैंड को मंजूरी दी थी। स्टेडियम में पहले से बिशन सिंह बेदी, मोहिंदर अमरनाथ और विराट कोहली स्टैंड मौजूद हैं। स्टेडियम के एक गेट को वीरेंद्र सहवाग और एक अन्य गेट को अंजुम चोपड़ा गेट का नाम दिया जा चुका है।

हालांकि में फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम पूर्व वित्त मंत्री के देहांत के बाद उनके नाम पर कर दिया गया था। इस मौके पर एक विराट कोहली स्टैंड का उद्घाटन किया गया था। उल्लेखनीय है कि 38 साल के गंभीर ने 58 टेस्ट, 147 वनडे और 37 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं। वह 2007 वर्ल्ड टी20 और 2011 वर्ल्ड कप विजेता भारतीय टीम के सदस्य भी रहे हैं। (एजेंसी इनपुट)

Next Stories
1 Maharashtra CM Oath Ceremony: शिवाजी पर उद्धव CM उद्धव ठाकरे का पहला फैसला, किसानों को दे सकते हैं खुशखबरी
2 26/11 Stories of Strength Event: शहीदों को याद कर बोले नितिन गडकरी- सज्जनों की रक्षा के लिए शक्तिशाली होना जरूरी
3 शिवसेना ने सामना से बीजेपी पर साधा निशाना, कहा- अजित पवार तो बच गए, लेकिन पूरी तरह निर्वस्त्र हो गई भगवा पार्टी
ये पढ़ा क्या?
X