ताज़ा खबर
 

पी चिंदबरम ने अर्थव्यवस्था पर मोदी सरकार को घेरा, कहा- बुरे दिन कब जाएंगे

चिदंबरम ने कहा कि मेरी सबसे अपील है, खास कर उन लोगों से जो अर्थव्यवस्था के बारे में जानते हैं, उन्हें बिना डर के बोलना और लिखना चाहिये, डर को छोड़ दो।

P Chidambaram news, P Chidambaram latest news, Narendra Modi vs P Chidambaram, BJP P Chidambaram, BJP human rightsपी चिदंबरम (बाएं) और पीएम नरेंद्र मोदी।

कांग्रेस नेता और पूर्व फाइंनैंस मिनिस्टर पी चिंदबरम बीजेपी के पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा के लेख पर सरकार को घेरा है। चिदंबरम ने कहा कि अच्छे दिन तो आ गए बुरे दिन कब जाएंगे। कांग्रेस ने अर्थव्यवस्था में कई कमजोरियों और भयानक कुप्रबंधन को उजागर किया है। कांग्रेस ने करीब 18 महीनों में अर्थव्यवस्था में इन बहुत गंभीर कमजोरियों को उजागर किया है। हमें चुप रहने तक के लिए कहा गया। मैं देश में अलग अलग जगह जाता रहता हूं। मुझे सुनने को मिला है कि अच्छे दिन तो आए नहीं, ये बुरे दिन कब जाएंगे? मेरी सबसे अपील है, खास कर उन लोगों से जो अर्थव्यवस्था के बारे में जानते हैं, उन्हें बिना डर के बोलना और लिखना चाहिये, डर को छोड दो। सरकार को अर्थव्यवस्था की कोई खैर खबर नहीं है। कब तक पीएम की बयानबाजी और पार्टी के नारों के पीछे इसे छिपाया जाएगा।

इससे पहले भी पी चिदंबरम ने यशवंत सिन्हा के लेख पर ट्वीट कर पूछा था कि मोदी सरकार अब इस सच को स्वीकार करेगी कि अर्थव्यवस्था चरमरा गई है। पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने इंडियन एक्सप्रेस के लेख ‘अब बोलना ही होगा’ में केंद्र सरकार की आर्थिक नीतियों को निशाना बनाते हुए गिरती अर्थव्यवस्था के लिए जिम्मेदार ठहराया है। इसके बाद से यह लेख बुधवार सुबह से सोशल मीडिया पर खास चर्चा का विषय बना हुआ है। इस लेख में यशवंत सिन्हा ने अपनी ही पार्टी की आर्थिक नीतियों पर सवालिया निशान लगाया है।

कांग्रेस शुरू से ही सरकार की आर्थिक नीतियों पर सवाल खड़े कर रही है। खास कर नोटबंदी के फैसले को पार्टी ने एक आत्मघाती फैसला करार दिया था। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा था कि सरकार के नोटबंदी के फैसले से विकास दर धीमी हो सकती है। फिलहाल अर्थव्यवस्था की जो स्थिति है वो इस समय काफी लचर चल रही है।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी धीमी विकास दर को लेकर बैठक कर चुके हैं और कई कदम उठाए जा रहे हैं, ताकि अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाया जा सके।

Next Stories
1 यशवंत सिन्हा की आलोचना का राजनाथ सिंह ने एेसे दिया जवाब
2 रोहिंग्या मुसलमानों का पक्ष लेने वाले वरुण गांधी पर बोले दिग्विजय- BJP में फिट नहीं बैठते
3 गोरखालैंड आंदोलन: साढ़े तीन महीने पर पटरी पर लौटा जीवन, हड़ताल वापस
आज का राशिफल
X