ताज़ा खबर
 

नहीं रहे पूर्व CBI निदेशक रंजीत सिन्हा, कोरोना से जाने जाने की खबर

रंजीत सिन्हा सीबीआई के महानिदेशक और डीजी आईटीबीपी सहित विभिन्न वरिष्ठ पदों पर रहे थे।

ranjit sinha, cbi, ITBP1974 बैच के सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी 68 वर्षीय रंजीत सिन्हा ने दिल्ली में शुक्रवार तड़के साढ़े 4 बजे के आसपास अंतिम सांसें लीं।(एक्सप्रेस फोटो – रेणुका पूरी)

सीबीआई के पूर्व निदेशक रंजीत सिन्हा का आज दिल्ली में निधन हो गया। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार 1974 बैच के सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी 68 वर्षीय रंजीत सिन्हा ने दिल्ली में शुक्रवार तड़के साढ़े 4 बजे के आसपास अंतिम सांसें लीं। रंजीत सिन्हा सीबीआई के महानिदेशक और डीजी आईटीबीपी सहित विभिन्न वरिष्ठ पदों पर रहे थे। अधिकारियों के मुताबिक ऐसा कहा जा रहा है कि सिन्हा के कोरोना वायरस से संक्रमित होने का पता बृहस्पतिवार रात को चला था। उन्होंने शुक्रवार तड़के चार बज कर करीब तीस मिनट पर अंतिम श्वांस ली। 

रंजीत सिन्हा सीबीआई डायरेक्टर का पद संभालने से पहले भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के निदेशक थे। साल 2012 में उन्हें अगले दो सालों के लिए सीबीआई के निदेशक के रूप में नियुक्त किया गया था। इसके अलावा रंजीत सिन्हा रेलवे सुरक्षा बल का नेतृत्व भी कर चुके थे। भ्रष्टाचार के एक मामले में सीबीआई ने ही रंजीत सिन्हा के खिलाफ केस दर्ज किया था। रंजीत सिन्हा पर आरोप था कि उन्होंने सीबीआई डायरेक्टर के पद पर रहते हुए कोयला आवंटन घोटाले की जांच को प्रभावित करने की कोशिश की थी। बिहार कैडर के 1974 बैच के अधिकारी सिन्हा ने 21 साल की आयु में प्रतिष्ठित यूपीएससी (संघ लोक सेवा आयोग) परीक्षा उत्तीर्ण की थी।

रंजीत सिन्हा के निधन पर आईटीबीपी ने भी दुःख जताया है। आईटीबीपी ने एक बयान में कहा, ‘‘आईटीबीपी के महानिदेशक एवं सभी रैंक के कर्मी आईटीबीपी के पूर्व महानिदेशक रंजीत सिन्हा के दु:खद निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हैं। उन्होंने एक सितंबर, 2011 से 19 दिसंबर, 2012 तक महानिदेशक के रूप में और इससे पहले अतिरिक्त महानिदेशक के रूप में बल में सेवाएं दी थीं। उन्हें उनके पेशेवर कौशल एवं असाधारण नेतृत्व के लिए हमेशा याद किया जाएगा। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे।’’

सीबीआई के पूर्व निदेशक रंजीत सिन्हा पढ़ने लिखने के काफी शौक़ीन थे और साथ ही वे विभिन्न पत्रिकाओं में नीति संबंधी मामलों में नियमित रूप से योगदान देते रहते थे। रंजीत सिन्हा ने भारतीय लोक प्रशासन संस्थान से एमफिल की डिग्री ली थी। प्रतिष्ठित सेवा के लिए पुलिस पदक और विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक से सम्मानित सिन्हा ने रांची, मधुबनी एवं सहरसा जिलों में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक और बिहार के नक्सल प्रभावित मगध प्रमंडल में पुलिस उपमहानिरीक्षक के तौर पर सेवाएं दीं।(भाषा इनपुट्स के साथ)

Next Stories
1 सुप्रीम कोर्ट में बीच सुनवाई आई सारे स्टाफ के कोविड पॉज़िटिव होने की खबर, जज को लेना पड़ा ब्रेक, साथी जज ने दी एक और जानकारी
2 RR vs DC: स्मिथ को बाहर बिठाने से पंत पर भड़के लोग, बोले- हार डिजर्व करती है दिल्ली कैपिटल्स
3 कोरोना से यूपी हलकान, सरकार ने टिन से ढंका लखनऊ का सबसे बड़ा श्मशान
यह पढ़ा क्या?
X