ताज़ा खबर
 

महाराष्ट्र में राकांपा और कांग्रेस गठबंधन की सरकार का गठन लगभग तय

कांग्रेस और राकांपा नेताओं की बैठक के बाद सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री व वरिष्ठ कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा कि सभी मुद्दों पर बातचीत पूरी हो गई है और सरकार के स्वरूप पर आज निर्णय होगा।

कांग्रेस और राकांपा नेताओं की बैठक के बाद सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री व वरिष्ठ कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा कि सभी मुद्दों पर बातचीत पूरी हो गई है।

महाराष्ट्र में शिवसेना की अगुआई में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस के गठबंधन की सरकार का गठन लगभग तय हो गया है। इसकी औपचारिक घोषणा आज (शुक्रवार) मुंबई में किए जाने की संभावना है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में गुरुवार सुबह अचानक बुलाई गई पार्टी की सर्वोच्च नीति निर्धारक इकाई कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्लूसी) की बैठक में महाराष्ट्र में शिवसेना व राकांपा के साथ गठबंधन सरकार के गठन पर मुहर लगा दी गई। उसके बाद कांग्रेसी रणनीतिकार पार्टी के वॉर रूम में मिले और फिर इन तमाम नेताओं की राकांपा प्रमुख शरद पवार व अन्य नेताओं से पवार के निवास पर हुई मैराथन बैठक में भावी सरकार की रूप रेखा तय कर ली गई।

कांग्रेस और राकांपा नेताओं की बैठक के बाद सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री व वरिष्ठ कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा कि सभी मुद्दों पर बातचीत पूरी हो गई है और सरकार के स्वरूप पर शुक्रवार को निर्णय होगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और राकांपा ने सभी मुद्दों पर चर्चा पूरी कर ली है। अब सभी मुद्दों पर एक राय बन गई है। उन्होंने कहा कि हम मुंबई जा रहे हैं और उन सभी पार्टियों से चर्चा करेंगे जिनके साथ मिलकर चुनाव लड़े थे। फिर कांग्रेस और राकांपा शिवसेना के साथ चर्चा करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि शुक्रवार को इस पर फैसला होगा कि नई सरकार का क्या स्वरूप होगा।

इससे पहले सीडब्लूसी की बैठक के बाद कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा कि इस दौरान कांग्रेस-राकांपा की बैठक के बारे में जानकारी दी गई और शुक्रवार तक कोई फैसला होने की उम्मीद है। सूत्रों ने बताया कि कार्यसमिति ने महाराष्ट्र में राजनीतिक स्थिति पर विस्तृत विचार विमर्श के बाद राज्य में शिवसेना के साथ हाथ मिलाने को अपनी स्वीकृति दी। उन्होंने उम्मीद जताई कि शुक्रवार तक महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर औपचारिक तौर पर एलान कर दिया जाएगा।

सूत्रों ने बताया कि कार्यसमिति की बैठक के बाद कांग्रेस के तमाम वरिष्ठ नेता पार्टी के 15 गुरुद्वारा रकाबगंज रोड स्थित वॉर रूम में मिले और लंबी बातचीत की। उसके बाद ये सारे नेता राकांपा प्रमुख शरद पवार के घर पर बैठक करने पहुंचे। इस बैठक में अहमद पटेल, जयराम रमेश और मल्लिकार्जुन खड़गे शामिल थे। राकांपा की तरफ से बैठक में प्रफुल्ल पटेल, सुप्रिया सुले, अजीत पवार, जयंत पाटील और नवाब मलिक शामिल थे। इस बैठक में सरकार के भावी स्वरूप को अंतिम रूप दे दिया गया। बताया गया कि तीनों दल राज्य में सरकार गठन को लेकर शुक्रवार तक औपचारिक घोषणा कर सकते हैं।

इससे पूर्व शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने विश्वास जताया कि दोनों पार्टियां कांग्रेस के साथ एक या दो दिन में सरकार गठन को लेकर निर्णय पर पहुंच जाएंगी। उन्होंने संवाददाताओं से यह भी कहा कि सोनिया गांधी और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बीच इस सप्ताह कोई बैठक होने की योजना नहीं है।
भाजपा और शिवसेना ने महाराष्ट्र में गत 21 अक्तूबर को हुआ विधानसभा चुनाव एक साथ मिलकर लड़ा था और दोनों दलों ने 288 सदस्यीय सदन में क्रम से 105 और 56 सीटों पर जीत दर्ज आसानी से बहुमत का आंकड़ा हासिल कर लिया था। कांग्रेस और राकांपा ने क्रम से 44 और 54 सीटों पर जीत दर्ज की थी। इसके बाद शिवसेना ने कांग्रेस-राकांपा गठबंधन से बातचीत शुरू की थी।

Next Stories
1 कुमार विश्वास का ट्वीट, ‘…माना हम गधे हैं, पर तसल्ली है कि खूंटे से न बंधे हैं’; ट्रोल्स बोले- खूंटा ही कमजोर था
2 कभी मानती थीं नित्यानंद को गुरु, अब बोलीं, ‘मुझे बरगलाया गया था’; ‘गुरुकुल’ में डंडों से पीटे जाते थे बच्चे- खुलासा
3 पूर्व RBI गवर्नर ने PM नरेंद्र मोदी के सपनों पर खड़े किये सवाल, कहा- 2025 तक 5 ट्रिलियन इकॉनोमी मुश्किल
ये पढ़ा क्या?
X