ताज़ा खबर
 

शरजील इमाम की तलाश में पांच राज्यों की पुलिस, शिवपाल यादव के नेता ने कहा- उसकी गर्दन काटने वाले को दूंगा एक करोड़ रुपए

वीडियो में अमित जानी कह रहे हैं, 'एक नारा आज मैं इस देश को देता हूं। भारत हम शर्मिंदा हैं। शरजील इमाम जैसे लोग जिंदा है। जो भारत को काटने की बात करे, ऐसे व्यक्ति की गर्दन काट देनी चाहिए।'

amit janiJNU में इतिहास अध्ययन केंद्र के पीएचडी छात्र शरजील इमाम और प्रगतिशाली समाजवादी पार्टी नेता अमित जानी।

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शनों के दौरान शाहीन बाग और जामिया मिल्लिया इस्लामिया में भड़काऊ भाषण देने के आरोपी शरजील इमाम की तलाश में पांच राज्यों की पुलिस जुटी है। शरजील के खिलाफ पहले असम और यूपी में मामला दर्ज हुआ। इसके बाद दिल्ली, अरुणाचल प्रदेश और मणिपुर में भी उसके खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) में इतिहास अध्ययन केंद्र के पीएचडी छात्र शरजील के खिलाफ इन राज्यों में देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया है।

शरजील के खिलाफ केस दर्ज होने के बाद से उसकी गिरफ्तारी के लिए मुंबई, पटना और दिल्ली में छापेमारी की जा रही है।पुलिस ने सोमवार (27 जनवरी, 2020) को एक बयान जारी कर यह जानकारी दी। हालांकि खबर लिखे जाने तक उसे गिरफ्तार नहीं किया जा सका है। इसी बीच शिवपाल यादव की समाजवादी प्रगतिशील पार्टी के एक नेता अमित जानी ने एक बयान जारी शरजील इमाम पर एक करोड़ रुपए का इनाम देने की घोषणा कर दी।

हिंदी न्यूज चैनल न्यूज18इंडिया ने अपनी एक खबर उनका वीडियो फुटेज शेयर किया है। वीडियो में अमित जानी कह रहे हैं, ‘एक नारा आज मैं इस देश को देता हूं। भारत हम शर्मिंदा हैं। शरजील इमाम जैसे लोग जिंदा है। जो भारत को काटने की बात करे, ऐसे व्यक्ति की गर्दन काट देनी चाहिए और जो उसकी गर्दन काटेगा… मैं उसके साथ खड़ा हूं। कोर्ट कचहरी, जेल, जमानत, मुकदमा, वकील यानी सब कुछ इंतजाम मैं देखूंगा और उसके परिवार को एक करोड़ रुपए इनाम पहुंचाने का काम करूंगा। वो भी अपनी निजी संपत्ति, निजी कमाई से।’

यहां देखें वीडियो-

उल्लेखनीय है कि शरजील की तलाश में अपराध शाखा के पांच दल लगाए गए हैं। इसके अलावा जेएनयू के चीफ प्रॉक्टर ने शरजील भी तलब किया है। उन्होंने इमाम से तीन फरवरी तक प्रॉक्टोरियल समिति के समक्ष पेश होकर कथित भड़काऊ भाषण पर अपनी स्थिति स्पष्ट करने को कहा है। शाहीन बाग प्रदर्शन के शुरुआती आयोजकों में से एक शरजील के खिलाफ दिल्ली पुलिस द्वारा रविवार को भारतीय दंड संहिता की धारा 124 ए, 153 ए और 505 के तहत मामला दर्ज किया गया था।

इसके अलावा उसके खिलाफ 16 जनवरी को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में दिए गए एक भाषण को लेकर शनिवार को देशद्रोह का मामला दर्ज किया। असम पुलिस ने भी शरजील के भाषणों को लेकर उसके खिलाफ आतंकवाद रोधी कानून यूएपीए के तहत एक मामला दर्ज किया है। (भाषा इनपुट)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दिल्ली में पोस्टरबाजी वाली सरकार नहीं, डबल इंजन की भाजपा सरकार चाहिए – नड्डा
2 Vyom Mitra Robot: अंतरिक्ष में ह्मयूनॉयड से बड़ी छलांग
3 नागरिकता विवादः लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने लिखी CAA प्रस्ताव पर EU संसद अध्यक्ष को चिट्ठी, जताई आपत्ति
ये पढ़ा क्या...
X