ताज़ा खबर
 

कैराना: भाजपा की टीम का मुसलमानों ने किया विरोध, अब पांच विपक्षी पार्टियां मिलकर भेजेंगी अपना दल

गोधरा और मुजफ्फरनगर के 'नतीजों' से उत्‍साहित भाजपा कैराना में भी तनाव को दे रही हवा: जेडीयू

Author नई दिल्‍ली | June 16, 2016 12:06 PM
बुधवार को कैराना पहुंची भाजपा की नौ सदस्‍यीय टीम को स्‍थानीय मुस्लिम नागरिकों का विरोध झेलना पड़ा था। (PTI PHOTO)

उत्‍तर प्रदेश के कैराना में हिन्‍दू परिवारों के कथित पलायन का राजनीतिक लाभ उठाने के लिए पार्टियों में होड़ मच गई है। पांच विपक्षी पार्टियों ने तय किया है कि वे एक प्रतिनिधिमंडल बनाएंगे, जो शामली और कैराना जाकर तथ्‍यों की जांच करेंगे। यह कदम भाजपा सांसद हुकुम सिंह द्वारा किए गए दावे के बाद उठाया गया है। उन्‍होंने दावा किया था कि कैराना गांव के कई हिन्‍दू परिवार ‘प्रताड़ना’ से तंग आकर पलायन कर गए हैं। इस संबंध में भाजपा ने बुधवार को नौ सदस्‍यीय टीम शामली भेजी थी, जिसका स्‍थानीय नागरिकों ने भारी विरोध किया था।

Kairana, Kairana Exodus, Mass Eodus, Shamli exodus, Hukum Dev Singh (Source: ANI)

जेडीयू के महासचिव केसी त्‍यागी ने घोषणा कि प्रतिनिधिमंडल में वे खुद, सीपीएम के मो. सलीम, सीपीआई के डी. राजा, एनसीपी के डी.पी. त्रिपाठी और आरजेडी के मनोज झा होंगे। त्‍यागी ने बताया कि प्रतिनिधिमंडल दोनों कस्‍बे के सभी समुदायों के लोगों मिलेगी। उनके मुताबिक, कैराना से हिन्‍दुओं के पलायन का दावा कर भाजपा ने उत्‍तर प्रदेश में तनाव का माहौल पैदा कर दिया है।

READ ALSO: कैराना पहुंची भाजपा टीम का दावा- मुसलमान कर रहे हैं कब्‍जा, शाह को भेजी जाएगी रिपोर्ट

त्‍यागी ने भाजपा पर चुनाव से पहले ध्रुवीकरण का आरोप लगाते हुए कहा, ”उन्‍होंने (भाजपा) गोधरा और मुजफ्फरनगर दंगों के नतीजे देखें हैं। वे उत्‍तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले ऐसे ही किसी मौके की तलाश में हैं।” त्‍यागी ने हिन्‍दुओं के पलायन पर अमित शाह के बयान की भी निंदा की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App