ताज़ा खबर
 

7-RCR में बाथटब है क्‍या- बर्खास्‍त आईपीएस ने किया ट्वीट, लोगों ने किया ट्रोल

बॉलीवुड अभिनेत्री श्रीदेवी की दुबई में बाथटब में डूबने से मौत हो गई थी। इसके बाद बाथटब को लेकर चर्चाएं शुरू हो गईं। यहां तक कि देश के पांच सितारा होटल भी इस सुविधा को खत्म करने पर विचार कर रहे हैं। संजीव भट्ट ने प्रधानमंत्री आवास पर तंज कसते हुए ट्वीट किया।

Author February 27, 2018 5:36 PM
गुजरात के बर्खास्त आईपीएस अधिकारी संजीव भट्ट।

बर्खास्त आईपीएस अधिकारी संजीव भट ने बाथटब को लेकर ऐसा सवाल पूछ लिया कि सोशल मीडिया में वह खुद ट्रोल हो गए। उन्होंने ट्वीट कर पूछा, ‘7-RCR में बाथटब है क्या? बस पूछा रहा हूं!’ बता दें कि 7-RCR का नाम बदल कर 7-लोककल्याण मार्ग कर दिया गया है। प्रधानमंत्री का आवास यहीं पर है। उनका ट्वीट सामने आते ही लोग उन्हें ट्रोल करने लगे। एक व्यक्ति ने लिखा, ’10-जनपथ का टॉयलेट साफ करके मन नहीं भरा क्या…7-RCR का बाथटब चकमकाना है?’ डोगा ने ट़्वीट किया, ‘चिंता न करें…आपका तो गटर में नहाने से आज तक कुछ नहीं हो सका तो बाथटब में क्या होगा?’ मंजू चौहान ने लिखा, ‘हां है पर आपको वहां जाने की अनुमति नहीं है…आपको अपने ही बाथटब का प्रयोग करना होगा।’ डॉ. नीलम दत्तु ने ट्वीट किया, ‘संजीव भट्ट आपको निलंबित हुए कितन साल हो गए…आपका खर्चा 10-जनपथ से आता होगा।’ सुमित कटियार ने लिखा, ’10-जनपथ के टॉयलेट क्लीनर से निलंबित कर दिए गए क्या?’ हिमांशी कुंवर ने लिखा, ‘कसम से संजीव भट्ट आप अपने नाम से पहले आईपीएस हटा लीजिए। आपके नाम के साथ आईपीएस और बाद में ट्वीट को देखकर बहुत बुरा लगता है। मैं आईपीएस का बहुत सम्मान करती हूं।’ एक अन्य व्यक्ति ने लिखा, ‘कांग्रेस के टाइम में तो बाथरूम आप ही साफ करते थे। इतना जल्दी भूल गए?’ मनीष वाघेला ने ट्वीट किया, ‘सर अमित शाह को आइडिया मत दो। आपको कभी भी 7-RCR में बुलाया जा सकता है।’

बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री श्रीदेवी की बाथटब में डूब कर मौत की घटना के बाद से बाथटब को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं होने लगी हैं। बताया जाता है कि देश के पांच सितारा होटलों से बाथटब की सुविधा जल्द ही गायब हो सकती है। इसके बजाय सिर्फ शॉवर की सुविधा होगी। ग्लोबल ट्रेंड को देखते हुए भारत के बड़े-बड़े होटल बाथटब को हटाने पर विचार कर रहे हैं। बता दें कि पांच सितारा होटलों में बाथटब को अनिवार्य सुविधा के तौर पर देखा जाता है। एक आंकड़े के मुताबिक बाथटब में एक व्यक्ति के नहाने पर औसतन 370 लीटर पानी खर्च होता है, जबिक शॉवर में स्नान करने पर 70 लीटर पानी ही लगता है। विशेषज्ञों का कहना है कि इससे जल संरक्षण भी किया जा सकेगा। एक सर्वेक्षण के अनुसार, दुनिया भर में बाथटब में डूबने से सबसे ज्यादा जापान में लोगों की मौत होती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App