ताज़ा खबर
 

AltNews के मोहम्मद जुबैर पर दिल्ली, रायपुर में एफआईआर, IT एक्ट और POCSO में मामला

NCPCR ने मोहम्मद जुबैर द्वारा शेयर किए गए एक ट्वीट का हवाला दिया है, जिसे 6 अगस्त को शेयर किया गया था और उसमें एक नाबालिग बच्ची की तस्वीर थी।

Edited By नितिन गौतम नई दिल्ली | Updated: September 6, 2020 9:43 AM
फैक्ट चेकिंग वेबसाइट के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। (इमेज सोर्स- ट्विटर@zoo_bear)

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल और रायपुर पुलिस ने आईटी एक्ट और पोक्सो एक्ट के तहत एक शिकायत दर्ज की है। यह शिकायत नेशनल कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स (NCPCR) द्वारा ट्विटर से एक नाबालिग लड़की को धमकाने और उसे प्रताड़ित करने के मामले में दी गई थी। एफआईआर में तीन ट्विटर हैंडल, जिनमें फैक्ट चेकिंग वेबसाइट AltNews के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर का ट्विटर हैंडल @zoo_bear और दो अन्य ट्विटर हैंडल @de_real_mask और @syedsarwar20 दर्ज किए गए हैं।

साइबर क्राइम दिल्ली के डीसीपी अन्येश रॉय और रायपुर के एसपी अजय यादव ने एफआईआर दर्ज होने की पुष्टि की है। NCPCR ने मोहम्मद जुबैर द्वारा शेयर किए गए एक ट्वीट का हवाला दिया है, जिसे 6 अगस्त को शेयर किया गया था और उसमें एक नाबालिग लड़की की तस्वीर थी। तस्वीर में लड़की का चेहरा धुंधला किया गया था। एफआईआर में बताया गया है कि लड़की की अपने पिता के साथ हुई एक ऑनलाइन बहस के दौरान उसकी पोस्ट पर दो अन्य लोगों द्वारा कमेंट किया गया था, जिनमें से एक ने कमेंट बाद में डिलीट कर दिया और दूसरे के बारे में अभी तक पता नहीं चल सका है।

NCPCR के चेयरपर्सन प्रियांक कानूनगो ने द इंडियन एक्सप्रेस के साथ बातचीत में बताया कि ‘NCPCR ने 8 अगस्त को पोस्ट को लेकर जांच शुरू की थी, जिसमें ट्विटर से जरुरी जानकारी देने को कहा गया था। ट्विटर के जवाब से संतुष्ट नहीं होने के बाद हमने ट्विटर को समन भेजा। जिसके बाद उसके प्रतिनिधि आयोग के सामने पेश हुए।’

NCPCR के चेयरपर्सन ने बताया कि ‘हमने इस मामले की सूचना पुलिस को दी। जिसके बाद ट्विटर पर एक नाबालिग लड़की को धमकाने और प्रताड़ित करने के मामले में एफआईआर दर्ज की गई है।’  वहीं एफआईआर दर्ज होने पर मोहम्मद जुबैर ने कहा है कि ‘यह बिल्कुल गलत शिकायत है और मैं इस कानूनी रूप से चुनौती दूंगा।’

रायपुर के एसपी ने बताया कि NCPCR द्वारा भेजे गए पत्र के आधार पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है। प्रथम दृष्टया यह मामला कुछ कमेंट से उत्पीड़न का लग रहा है। हमने तीनों ट्विटर हैंडल के खिलाफ शिकायत दर्ज कर ली है लेकिन अभी भी जांच चल रही है।

रायपुर पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक एफआईआर आईपीसी की धारा 509 बी और पोक्सो एक्ट की धारा 12 और आईटी एक्ट की धारा 67 के तहत दर्ज की गई है।

Next Stories
1 Coronavirus India Highlights: WHO ने चेताया कोरोना वायरस आखिरी महामारी नहीं, आगे के लिए भी रहना होगा तैयार
2 Business Ranking: कारोबार सुगमता में उत्तर प्रदेश दूसरे नंबर पर, 10 स्थान की छलांग, शीर्ष पर फिर से आंध्र प्रदेश
3 एक्वा लाइन मेट्रो: आज होगा मेट्रो का पूर्ण परीक्षण, एनएमआरसी अधिकारियों ने रूट का लिया जायजा, दी हरी झंडी
ये पढ़ा क्या?
X