ताज़ा खबर
 

फारुख अब्दुल्ला बोले- मैंने रॉ चीफ को ऐसी सुनाई थी कि उनकी पेशाब निकल गई होगी

फारुख ने बताया कि इस मसले पर उनसे बात करने के लिए आए प्रतिनिधिमंडल में रॉ के तत्कालीन प्रमुख एएस दुलत भी शामिल थे।

Farooq Abdullah, Farooq Abdullah says, Farooq Abdullah demands, Farooq Abdullah statement, Rajnath Singh, Rajnath Singh says, Kashmir Issue, Resolve Kashmir Issue, Political Initiative, National newsनेशनल कॉन्फ्रेंस नेता और जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला। (File Photo)

कंधार विमान अपहरण कांड पर जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व केंद्रीय मंत्री फारुख अब्दुल्ला ने चौंकाने वाला बयान दिया है। उन्होंने बताया कि वह यात्रियों के बदले में आतंकियों को छोड़ने पर सहमत नहीं थे। इनमें मसूद अजहर भी शामिल था। फारुख ने बताया इस पर बात करने के लिए उनके पास आए प्रतिनिधिमंडल में रॉ के तत्कालीन प्रमुख एएस दुलत भी शामिल थे। पूर्व सीएम ने बताया कि यात्रियों के बदले आतंकियों को छोड़ने के विचार का उन्होंने पुरजोर विरोध किया था और दुलत को ऐसी सुनाई थी कि उनकी पेशाब निकल गई होगी। कांधार विमान अपहरण कांड के दौरान केंद्र में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार थी।

एक टीवी कार्यक्रम में बोलते हुए फारुख अब्दुल्ला ने कहा कि आज जिसे आतंकी करार दिलवाने के लिए भारत संयुक्त राष्ट्र का दरवाजा खटखटा रहा है, वह आज कैद होता। इसके लिए हम एक विमान और तकरीबन दो सौ लोग भी कुर्बान नहीं कर सके। उन्होंने इस फैसले की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि उनकी बात मानी गई होती तो चीन आज हमारी मांगों पर धप्पा नहीं मार रहा होता। फारुख ने कहा कि हमें वफादार नहीं कहा जाता है, लेकिन आप भी दिलदार कहां निकले।

भारत यात्रियों की कीमत पर रिहा किए गए मसूद अजहर को यूएन की काली सूची में डलवाने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है, लेकिन चीन बार-बार वीटो कर दे रहा है। विमान संख्या आईसी-814 नेपाल से भारत की उड़ान पर था। आतंकी उसे अपने कब्जे में लेकर अफगानिस्तान के कांधार ले गए थे। आतंकियों ने यात्रियों को छोड़ने के एवज में मसूद अजहर समेत तीन आतंकियों को रिहा करने की मांग की थी। वाजपेयी सरकार इसके लिए तैयार हो गई थी। आतंकियों ने रुपेन कात्याल नामक यात्री की हत्या भी कर दी थी। उस वक्त हरकत-उल-मुजाहिदीन सक्रिय था। बाद में मसूद अजहर ने जैश-ए-मोहम्मद नाम से अलग आतंकी संगठन बनाया। यह संगठन भारत में कई आतंकी हमलों को अंजाम दे चुका है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 बचपन पर भारी पड़ते वीडियो गेम
2 नवजोत सिंह सिद्धू ने राहुल गांधी को बताया ‘खानदानी’, कहा- वो हार को जीत में बदल रहे हैं
3 अमेरिका के लिए कचरे का डब्बा बना भारत, लाखों टन खतरनाक पेट्रोकोक कर रहा निर्यात