ताज़ा खबर
 

किसान ट्रैक्टर परेडः DP के जवान की छिनी पिस्टल, लाल किले तक हुआ तांडव; PHOTOS में देखें पुलिस पर कैसे भारी पड़ा उत्पात

मंगलवार को जहां देश अपना 72वां गणतंत्र दिवस मना रहा था वहीं दिल्ली की सड़कों पर एक हिंसक नजारा देखने को मिला।

प्रदर्शनकारी ने पुलिसकर्मी के आगे तलवार लहराई (PTI)।

मंगलवार को जहां देश अपना 72वां गणतंत्र दिवस मना रहा था वहीं दिल्ली की सड़कों पर एक हिंसक नजारा देखने को मिला। राजधानी के अलग-अलग इलाकों में किसानों और पुलिसकर्मियों की झड़प देखने को मिली। कई जगह तो उग्र किसानों ने पुलिस पर लाठियां चलाईं तो कुछ जगह तलवारें लहराईं। कल की घटना में पुलिसकर्मी घायल हुए और कई को गंभीर चोट आई। हालात ऐसे कि पुलिस कर्मियों को गुस्साए किसानों से अपनी जान की भीख तक मांगनी पड़ी।

ट्रैक्टर परेड में हिंसा और उत्पात के बीच मंगलवार को समयपुर बादली में जवान शंकर राम की पिस्टल छीनी गई। प्रदर्शनकारियों ने उन्हें घेर लिया था और फिर हथियार छीन कर भाग गए थे। पुलिस ने डकैती का मुकदमा दर्ज किया है।

दिल्ली पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी में किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के संबंध में अभी तक 22 प्राथमिकियां दर्ज की हैं। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि हिंसा में 300 से अधिक पुलिस कर्मी घायल हुए हैं।


अधिकारी ने बताया कि मंगलवार को हुई हिंसा में शामिल किसानों की पहचान करने के लिए कई सीसीटीवी फुटेज और तमाम वीडियो को खंगाला जा रहा है और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

राष्ट्रीय राजधानी में कई स्थानों पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है, खासकर लाल किले और किसानों के प्रदर्शन स्थलों पर अतिरिक्त अर्धसैनिक बलों की तैनाती की गई है।

कृषक संगठनों की केन्द्र के तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग के पक्ष में मंगलवार को हजारों की संख्या में किसानों ने ट्रैक्टर परेड निकाली थी। इस दौरान कई जगह प्रदर्शनकारियों ने पुलिस के अवरोधकों को तोड़ दिया और पुलिस के साथ झड़प की, वाहनों में तोड़ फोड़ की और लाल किले पर एक धार्मिक ध्वज लगा दिया था।

अतिरिक्त पीआरओ (दिल्ली पुलिस) अनिल मित्तल ने बताया कि मंगलवार को हुई हिंसा के मामले में अभी तक 22 प्राथमिकियां दर्ज की गई हैं।

उन्होंने बताया कि हिंसा में 300 से अधिक पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। प्रदर्शनकारी किसान संगठनों के एकीकृत संगठन संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा पर चर्चा के लिए बुधवार को एक बैठक भी बुलाई है।

Next Stories
1 ट्रैक्टर परेड हिंसा के 24 घंटे बाद किसानों पर केंद्र का बड़ा फैसला, हुई MSP में बढ़ोतरी
2 गणतंत्र दिवस पर हिंसाः इधर शाह ने ली बड़ी बैठक, उधर योगेंद्र यादव और राकेश टिकैत समेत 9 किसान नेताओं पर FIR
3 Kerala Lottery Results announced: यहां चेक करें आपकी लॉटरी लगी या नहीं? पहला 70 लाख रुपये इनाम
यह पढ़ा क्या?
X