ताज़ा खबर
 

योगेंद्र यादव का नाम ले चिल्लाने लगे अर्नब गोस्वामी- अर्बन नक्सली और शाहीन बाग समर्थक अचानक किसान नेता कैसे बन गए?

अर्णब ने कहा कि ये प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव किसान नेता कैसे बन गए? जो शाहीन बाग के समर्थक हैं वो अचानक किसान नेता कैसे बन गए?

farmers protest, arnabअर्णब गोस्वामी ने योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण को लेकर सवाल उठाए।

नये  कृषि कानून के खिलाफ सड़क पर किसानों का आंदोलन जारी है। इस मुद्दे पर रिपब्लिक टीवी पर बहस के दौरान एंकर अर्णब गोस्वामी ने योगेंद्र यादव का नाम लेकर कहा कि वो किसान समर्थक कैसे हो गए? दरअसल पैनल में मौजूद एक पैनलिस्ट ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी किसानों के साथ अन्याय कर रही है। इसपर अर्णब गोस्वामी ने कहा कि ‘मैं एमएसपी के मुद्दे पर सवाल पूछना चाहता हूं। मेरा पहला सवाल यह है कि क्या नए कृषि कानून में कही भी लिखा गया है कि एमएसपी खत्म हो जाएगा?

इसपर एक पैनलिस्ट ने कहा कि किसानों का आंदोलन शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा है। 50 दिनों तक केंद्र सरकार क्यों चुप रही। पंजाब की सरकार दिल्ली पर और दिल्ली की सरकार पंजाब पर आरोप लगाती रही लेकिन इन सब के बीच नुकसान किसानों का हुआ। पैनल में मौजूद शिरोमणि अकाली दल के एक नेता अर्णब गोस्वामी से कहा कि आप अर्बन नक्सलियों को इस आंदोलन से ना जोड़ें। इसपर एंकर अर्णब गोस्वामी ने कहा कि ‘मैं आपसे कहना चाहता हूं कि मैंने किसी भी किसान को नक्सली नहीं कहा। लेकिन मैं यह कहना चाहता हूं कि अर्बन नक्सली समर्थक किसान नेता कैसे बन गए?

ये प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव किसान नेता कैसे बन गए? जो शाहीन बाग के समर्थक हैं वो अचानक किसान नेता कैसे बन गए? मैं आपसे भी अपील करता हूं कि अर्बन नक्सलियों को घुसने ना दें। योगेंद्र यादव एक अर्बन नक्सलियों का समर्थक है। तो फिर किसान नेता कैसे बन गये बताइए।’ इसपर पैनलिस्ट ने कहा कि कल तक भारतीय जनता पार्टी कैप्टन अमरिंदर सिंह पर आरोप लगा रही थी कि वो किसानों को उकसा रहे हैं। आज भाजपा कह रही है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह को सुनो…सच क्या है?

बता दें कि कृषि कानून के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन लगातार 10वें दिन भी जारी है। किसान अपनी मांगों पर अड़े हुए हैं। सरकार और किसान संगठनों के बीच हो रही बातचीत का कोई परिणाम नही निकल रहा है।

इस बीच किसानों ने आठ दिसंबर को भारत बंद बुलाया है। गौरतलब है कि आज किसान संगठनों और नेताओं के बीच पांचवे दौर की वार्ता होगी। साथ ही किसानों ने आज प्रधानमंत्री का पुतला जलाने की घोषणा की है।

 

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मुस्लिमों को हर शुक्रवार सुअर का मांस खाने को मजबूर कर रहा चीन- दीपक चौरसिया का ट्वीट, ट्रोल
2 Covid-19 Vaccine: पुणे में रूस की वैक्सीन के दूसरे चरण का ट्रायल शुरू
3 लाखों जवानों को 1000 करोड़ का तोहफा! रैंक के बजाय नई व्यवस्था के तहत मिल सकेगा ‘HRA’
आज का राशिफल
X