ताज़ा खबर
 

जब राकेश टिकैत से बोले पीयूष गोयल- मुंह मत खुलवाओ…वायरल हो रही क्लिप

किसान संगठनों के प्रतिनिधियों और केंद्र सरकार के बीच छह दौर की बातचीत हो चुकी है और अबतक कोई समाधान नहीं निकला है। इसी बीच केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर और रेल मंत्री पीयूष गोयल का एक वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है।

piyush goyal, narendra singh tomar, rakesh singh tikait, farm bill, farmer protest, modi government, protest, jansattaकेंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर और रेल मंत्री पीयूष गोयल का एक वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है।

केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली से सटी सीमाओं पर किसानों का प्रदर्शन पिछले 1 महीने से जारी है। किसान संगठनों के प्रतिनिधियों और केंद्र सरकार के बीच छह दौर की बातचीत हो चुकी है और अबतक कोई समाधान नहीं निकला है। इसी बीच केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर और रेल मंत्री पीयूष गोयल का एक वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है।

यह वीडियो बैठक के बाद का है। इसमें नरेंद्र तोमर और पीयूष गोयल भारतीय किसान यूनियन (BKU) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत से बातचीत करते दिखाई दे रहे हैं। इस वीडियो में टिकैत केंद्रीय मंत्री से कुछ बोलते हैं जिसके बाद पीयूष गोयल कहते हैं कि ‘सबकी लिस्ट है, मुँह मत खुलवाओ।’ इस वीडियो को पत्रकार रोहिणी सिंह ने अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर किया है।

रोहिणी ने यह वीडियो शेयर करते हुए लिखा “यही अहंकार पतन का कारण बनता है, भाषा देखिए ‘सबकी लिस्ट है, मुँह मत खुलवाओ’। पीयूष जी, क्या आपकी लिस्ट नहीं है किसी के पास? सत्ता में बैठ कर, संस्थानों पर कब्ज़ा कर अक्सर लोग ऐसी भाषा का प्रयोग करते हैं। पीरामल से लेकर शिर्डी  तक, एक लंबी लिस्ट में हर कारनामे अंकित है, भूलिए मत।”


बता दें दिल्ली में नए साल के मौके पर भीषण शीत लहर के कहर और तापमान के 1.1 डिग्री सेल्सियस पर पहुंचने के बाद भी दिल्ली से लगी सीमाओं पर किसानों का प्रदर्शन जारी है। हाड़ कंपाने वाली ठंड में पंजाब, हरियाणा सहित कई राज्यों के किसान दिल्ली से लगी सीमाओं पर पिछले एक महीने से केन्द्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। दिल्ली से लगी सीमाओं पर सुरक्षा कड़ी है जहां सिंघु, गाजीपुर और टिकरी बॉर्डर पर सैकड़ों सुरक्षा कर्मी तैनात हैं।

सिंघु बॉर्डर पर किसानों की बैठक से पहले भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने मीडिया से बात की। उन्होंने कहा, ‘4 जनवरी को होने वाली बैठक में कानूनों की वापसी और एमएसपी पर कानून बनाने पर चर्चा होगी। आज सभी लोग विधिवत रूप से इस पर चर्चा करेंगे कि पहले हुई बैठक में क्या हुआ और अगली बैठक में क्या होगा।’

Next Stories
1 बीजेपी शासित गोवा में उड़ाई गई केंद्र के निर्देशों की धज्जियां, न मास्क, न सोशल डिस्टैंसिंग, खूब मना जश्न
2 सदन में सबसे ज्यादा कार्यवाही की बात करती है सरकार, 2020 में सबसे कम दिन चली राज्यसभा
3 शहरों में श्रमिकों को घर मुहैया कराने के लिए पीएम मोदी ने लॉन्च की आवास योजना, DDA भी उतारेगा सस्ते फ्लैट की स्कीम
ये पढ़ा क्या?
X