ताज़ा खबर
 

पंजाब कांग्रेस चीफ बन लुधियाना पहुंचे सिद्धू का विरोध, दिखाए गए काले झंडे; प्रदर्शनकारी करना चाहते थे सवाल

दरअसल, सिद्धू अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार लुधियाना के खटकड़कलां के भगत सिंह चौक  पहुंचे तो एक किसान संगठन उनसे कृषि कानूनों को लेकर सवाल करना चाहता था। किसान काले झंडे लेकर सिद्धू के काफिले में पहुंच गए। उन्होंने नारेबाजी की तो पुलिस अलर्ट हो गई।

पंजाब कांग्रेस के चीफ सिद्धू को किसानों ने दिखाए काले झंडे। (फोटोः ANI)

पंजाब कांग्रेस के नए चीफ नवजोत सिंह सिद्धू आज लुधियाना के नवांशहर में पहुंचे तो उनका विरोध किया गया। उन्हें काले झंडे दिखाए गए। हालांकि, पुलिस का कहना है कि स्थिति को अनियंत्रित होने से पहले संभाल लिया गया। बल प्रयोग के बगैर प्रदर्शनकारियों को सिद्धू के काफिले से दूर कर दिया गया।

दरअसल, सिद्धू अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार लुधियाना के खटकड़कलां के भगत सिंह चौक  पहुंचे तो एक किसान संगठन उनसे कृषि कानूनों को लेकर सवाल करना चाहता था। किसान काले झंडे लेकर सिद्धू के काफिले में पहुंच गए। उन्होंने नारेबाजी की तो पुलिस अलर्ट हो गई। कांग्रेस नेता भी किसानों से कोई टकराव मोल नहीं लेना चाहते थे। पुलिस ने बीच में पहुंच किसानों को निकाला उसके बाद स्थिति सामान्य हुई। पुलिस का कहना है कि अभी हालात काबू में हैं।

सूत्रों का कहना है कि सिद्धू ने शहीद ए आजम भगत सिंह के स्मारक पर माथा टेका। इसी दौरान सिद्धू के दौरे की भनक लगते ही मौके पर किसान संगठनों के लोग भी मौके पर पहुंच गए और विरोध प्रदर्शन करने लगे। पुलिस प्रशासन ने उनको रोकने का प्रयास किया तो किसानों ने जबरदस्ती आगे बढ़ना शुरू कर दिया।

पुलिस प्रशासन ने पहले सिद्धू और किसानों की आमने सामने बात करवाने की योजना बनाई लेकिन मामला बिगड़ते देख इसे रद्द कर दिया गया। उधर, कांग्रेस का कहना है कि नवजोत सिद्धू हमेशा से किसान आंदोलन का समर्थन करते रहे हैं। उन्होंने पहले भी कई बार किसानों के समर्थन में केंद्र के खिलाफ आवाज उठाई है।

गौरतलब है कि पंजाब कांग्रेस में तकरीबन पिछले दो महीने से मचे जबरदस्त घमासान के बाद रविवार को नवजोत सिंह सिद्धू प्रदेश कांग्रेस के अध्‍यक्ष बनने में कामयाब हो गए थे। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नवजोत सिंह सिद्धू को तत्काल प्रभाव से पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष नियुक्त किया है। सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनाए जाने के साथ-साथ चार कार्यकारी अध्यक्ष की भी नियुक्ति की गई है।

Next Stories
1 राम मंदिर के नाम पर कई संगठनों ने बंटोरी मोटी रकम, रोकें धोखाधड़ी- शाह को अयोध्या के महंत की चिट्ठी
2 अब ट्रेन में AC का सफर होगा सस्ता, थ्री टियर ‘एसी इकॉनमी’ कोच बनकर तैयार
3 यूपी चुनावः शायर मुनव्वर राणा का पहले लोग करते थे सम्मान, पर अब कट्टर मुसलमानों के चक्कर में आ गए…बंगाल जाने की तैयारी अभी से कर लें- बोले महंत नरेंद्र गिरी
ये पढ़ा क्या?
X