राजस्थान में BJP नेता पर फूटा किसानों का आक्रोश! हमला कर फाड़ दिए कपड़े, गाड़ी में भी तोड़-फोड़

बीजेपी के एक पूर्व विधायक के साथ राजस्थान-हरियाणा सीमा पर शाहजहांपुर में कथित तौर पर हाथापाई की गई और उनके वाहन को नुकसान पहुंचाया गया।

bjp, farmers
प्रेम सिंह बाजौर के साथ यह घटना रविवार शाम हुई। (स्क्रीनशॉट)।

बीजेपी के एक पूर्व विधायक के साथ राजस्थान-हरियाणा सीमा पर शाहजहांपुर में कथित तौर पर हाथापाई की गई और उनके वाहन को नुकसान पहुंचाया गया। बीजेपी के पूर्व विधायक एवं सैनिक कल्याण बोर्ड राजस्थान के पूर्व चेयरमैन प्रेम सिंह बाजौर के साथ यह कथित घटना रविवार शाम हुई। बाजौर के समर्थकों ने इस घटना को लेकर सोमवार को सीकर में प्रदर्शन किया और आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की। पुलिस में इस बारे में कोई मामला दर्ज नहीं करवाया गया है।

पुलिस के मुताबिक, बाजौर दिल्ली जा रहे थे, तभी अलवर जिले में शाहजहांपुर सीमा पर आंदोलन कर रहे कुछ किसानों ने उन्हें पहचान लिया और उनके वाहन को रोक लिया। बाजौर की आंदोलनरत किसानों से बहस हुई और उन्होंने उनके साथ कथित तौर पर हाथापाई की, उनके कपड़े फाड़ दिए तथा उनके वाहन को नुकसान पहुंचाया। शाहजहांपुर पुलिस थाने के प्रभारी विक्रम सिंह ने बताया कि अभी तक इस मामले में कोई एफआईआर दर्ज नहीं हुई है।


बता दें कि विरोध के चलते पूर्व विधायक को शाहजहांपुर-जयसिंहपुर खेड़ा बार्डर से वापस लौटना पड़ा। नीमका थाने से बीजेपी के पूर्व विधायक प्रेम सिंह बाजोर रविवार को अपनी फार्च्यूनर गाड़ी से हाईवे से दिल्ली की ओर जा रहे थे। शाहजहांपुर-जयसिंहपुर खेड़ा बार्डर पर धरना दे रहे कृषि कानून के विरोधियों ने उनका रास्ता रोक लिया और विरोध शुरू कर दिया। ड्राइवर ने गाड़ी को वापस मोड़ने की कोशिश की, लेकिन जाम के कारण वहीं फंस गए।

पूर्व विधायक प्रेम सिंह बाजौर ने बताया, ” शाम को वह जयपुर से दिल्ली जा रहे थे। धरने पर बैठे लोगों ने उनका रास्ता रोक लिया और जानलेवा हमला कर गाड़ियों में तोड़फोड़ कर दी। हमले में उनके पीए व ड्राइवर भी घायल हो गए हैं। हमले में उन्हें भी चोटें आई है और कपड़े भी फाड़ दिए। ऐसा करने वाले किसान नहीं हो सकते। प्रशासन व सरकार को ऐसे लोगों की पहचान कर गिरफ्तार करना चाहिए। मैं भी किसान का बेटा हूं।”

अपडेट