ताज़ा खबर
 

योगदिवस पर शवासन कर विरोध जताएंगे किसान

भारतीय किसान यूनियन ने केंद्र सरकार के खिलाफ 21 जून को योग दिवस पर लखनऊ की सड़कों पर शवासन कर योग दिवस मनाने का निर्णय लिया है।
Author देहरादून | June 20, 2017 05:10 am
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर। (फाइल फोटो)

भारतीय किसान यूनियन ने केंद्र सरकार के खिलाफ 21 जून को योग दिवस पर लखनऊ की सड़कों पर शवासन कर योग दिवस मनाने का निर्णय लिया है। योग दिवस के दिन जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लखनऊ में योग करेंगे तब किसान वहां की सड़कों पर विरोध में शवासन करते हुए मिलेंगे। भारतीय किसान यूनियन का आरोप है कि केंद्र सरकार की गलत नीतियों की वजह से किसान आज मरणावस्था में पहुंच गया है।  हरिद्वार में गंगा के तट पर स्थित लालकोठी परिसर में भारतीय किसान यूनियन की तीन दिवसीय राट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में किसानों ने केंद्र सरकार की जमकर निंदा की। एक प्रस्ताव पारित कर केंद्र सरकार को किसान विरोधी करार दिया और केंद्र की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ 31 जुलाई को लखनऊ में किसान महापंचायत करने और पंचायत के बाद दिल्ली कूच करने का फैसला लिया है।

भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार हर मौर्चे पर नाकाम साबित हो रही है। किसानों के भले के लिए केंद्र सरकार ने जितने भी वादे किए थे, उनमें से एक भी वादा पूरा नहीं किया गया है। बैठक में केंद्र सरकार के खिलाफ आरपार की लड़ाई लड़ने का एलान किया गया। बैठक में किसानों ने उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड और मध्यप्रदेश की सरकार को सिरे से किसान विरोधी बताया।

बैठक में प्रस्ताव पारित कर केंद्र सरकार से मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर हत्या का मुकदमा दर्ज करने, स्वामीनाथन की रिपोर्ट लागू करने, राज्यों में बिजली और खेती से जुडे़ हुए उपकरणों की कीमत वापस लेने की मांग की गई। यूनियन ने भाजपा की मानसिकता को किसान विरोधी बताया। यूनियन ने केंद्र सरकार से खेती से जुडेÞ उत्पादों का लाभकारी न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित करने की मांग की गई। भारतीय किसान यूनियन ने हरिद्वार के जिला प्रशासन के मार्फत उत्तराखंड के मुख्यमंत्री को पिथौरागढ़ के किसान द्वारा की गई आत्महत्या के विरोध में ज्ञापन सौंपा।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.