योगी को वोट न दें किसान, राकेश टिकैत बोले- यूपी चुनाव में एसकेएम करेगा बीजेपी का विरोध

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि हम आगामी विधानसभा चुनाव में किसानों से भाजपा को वोट नहीं देने की अपील करेंगे। हालांकि उन्होंने यह साफ़ कर दिया कि विधानसभा चुनावों में संयुक्त किसान मोर्चा की तरफ से कोई उम्मीदवार खड़ा नहीं किया जाएगा।

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि हम आगामी उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव में किसानों से योगी आदित्यनाथ को वोट नहीं देने की अपील करेंगे। (एक्सप्रेस फोटो)

देशभर से आए किसान पिछले 11 महीने से दिल्ली की सीमाओं पर धरना दे रहे हैं। प्रदर्शनकारी किसान केंद्र सरकार द्वारा पारित किये गए तीनों कानूनों की वापसी और न्यूनतम समर्थन मूल्य पर क़ानूनी गारंटी की मांग कर रहे हैं। इसी बीच किसान आंदोलन का प्रमुख चेहरा बन चुके किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि हम किसानों से आगामी उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव में योगी आदित्यनाथ को वोट नहीं देने की अपील करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा(SKM) आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा का विरोध करेगी।

बीते दिनों पुलिस हिरासत में मृत पाए गए सफाई कर्मचारी अरुण नरवर के परिवार से मुलाक़ात करने आगरा पहुंचे किसान नेता राकेश टिकैत ने मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए कहा कि हम आगामी विधानसभा चुनाव में किसानों से भाजपा को वोट नहीं देने का आग्रह करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा होने वाले विधानसभा चुनावों में भाजपा का विरोध भी करेगा।

किसान नेता राकेश टिकैत ने यह साफ़ कर दिया कि विधानसभा चुनावों में संयुक्त किसान मोर्चा की तरफ से कोई उम्मीदवार खड़ा नहीं किया जाएगा। राकेश टिकैत ने कहा कि हम आगामी विधानसभा चुनाव में न तो अपने उम्मीदवार नहीं उतारेंगे और न ही किसी राजनीतिक दल का समर्थन करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन तब तक जारी रहेगा जब तक कि मामला सुलझ नहीं जाता। उन्होंने यह भी कहा कि हम केंद्र सरकार से बात करने के लिए भी तैयार हैं।

वहीं राकेश टिकैत ने पुलिस हिरासत में मृत पाए गए सफाई कर्मचारी अरुण नरवर के परिवार से मिलने के बाद यह भी कहा कि प्रदेश सरकार मुआवजा देने में भी भेदभाव कर रही है। जब सरकार ने लखीमपुर खीरी और कानपुर में 40-45 लाख का मुआवजा दिया तो आगरा में सरकार ने 10 लाख का मुआवजा क्यों दिया। सरकार को भेदभाव नहीं करना चाहिए और अरुण के परिवार को भी 40 लाख का मुआवजा दिया जाना चाहिए। 

इसके अलावा राकेश टिकैत ने अरुण नरवर के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने और मौत की न्यायिक जांच की भी मांग की। साथ ही उन्होंने मृतक के मां और भाई को सांत्वना देते हुए कहा कि उन्हें न्याय जरूर मिलेगा और दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए हर स्तर पर दबाव बनाया जाएगा।    

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
विनोद राय ने मनमोहन सिंह पर बोला हमला, कहा- ‘कांग्रेसी नेताओं ने बनाया था दबाव’
अपडेट