ताज़ा खबर
 

हमने तो DM से PM का काम लिया है, पॉलिसी भी तय कराई- टिकैत का दावा

जब एंकर ने किसान नेता राकेश टिकैत से पूछा कि क्या आपको पीएम मोदी से मिलने का मन है। तो जवाब देते हुए राकेश टिकैत ने कहा कि हमें किसी से मिलने का मन नहीं है बल्कि पॉलिसी पर काम होना चाहिए।

Rakesh Tikait, farmers protest, delhi policeकिसान नेता राकेश टिकैत (फोटो- पीटीआई)

पिछले 90 दिनों से अधिक समय से देशभर के किसान दिल्ली से सटे सीमाओं पर डटे हुए हैं। किसान केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए तीनों कृषि कानूनों को वापस करने की मांग कर रहे हैं। हालाँकि सरकार ने अभी तक किसान संगठनों से बातचीत की कोई भी तारीख तय नहीं की है। इसी बीच किसान आंदोलन का प्रमुख चेहरा बने राकेश टिकैत ने दावा किया है कि हमने तो DM से PM का काम लिया है।

दरअसल टीवी न्यूज चैनल आजतक पर दिए एक इंटरव्यू में जब एंकर ने किसान नेता राकेश टिकैत से पूछा कि क्या आपको पीएम मोदी से मिलने का मन है। तो जवाब देते हुए राकेश टिकैत ने कहा कि हमें किसी से मिलने का मन नहीं है बल्कि पॉलिसी पर काम होना चाहिए। आगे टिकैत ने कहा कि हमने तो  मुज़फ़्फरनगर के डीएम से प्रधानमंत्री का काम करवाया है। पूरी पॉलिसी वहीँ से तय करवायी है। वही हमारे प्रोग्राम बनवाते थे और उसको पूरा करवाते थे।

आगे जब एंकर ने कहा है कि आप कहते हैं कि आपको प्रधानमंत्री से मिलने का मन नहीं है लेकिन आप पीएम मोदी का फ़ोन नंबर बार बार खोजते हैं। इसके जवाब में टिकैत ने कहा कि हम उनका फ़ोन नंबर नहीं मांग रहे हैं बल्कि कमिटी मांग रही है। पहले भी कमिटी के लोग सरकार के मंत्री से बात करते थे तो अब दोबारा से बात करने के लिए हमें बुला लें। क्योंकि वे तो कह रहे हैं कि हम सिर्फ एक कॉल दूर हैं।

आपको बता दूँ कि आज देशभर के आन्दोलनकारी किसान पगड़ी संभाल दिवस मना रहे हैं। किसान अपनी अपनी क्षेत्रीय पगड़ी को पहन कर तीनों कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं। दिल्ली के सिंघु, टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर के अलावा किसान पंजाब और हरियाणा के अलग अलग हिस्सों में भी पगड़ी संभाल दिवस मनाएंगे।

संयुक्त किसान मोर्चा ने पहले ही 23 फ़रवरी को चाचा अजीत सिंह और स्वामी सहजानंद सरस्वती की याद में पगड़ी संभाल दिवस मनाने का निर्णय किया था। साथ ही संयुक्त मोर्चा ने यह ऐलान किया है कि आने वाली 26 तारीख को दिल्ली में किसान आंदोलन के तीन महीने पूरे होने पर युवा किसान दिवस मनाया जाएगा।

Next Stories
1 पश्चिम बंगाल की राजनीति तय करेंगे मुसलमान? अपनों के विरोध से भी जूझ रहीं ममता, जानें कितनी बड़ी चुनौती
2 टूलकिट केस: दिशा रवि को मिली जमानत, भरना होगा 1 लाख रुपए का मुचलका
3 कोरोनाः CM की अपील बेअसर! वन मंत्री ने ही तोड़े नियम, भारी भीड़ संग पहुंचे मंदिर; BJP के सोमैया का तंज- जय हो ठाकरे सरकार
ये पढ़ा क्या?
X