ताज़ा खबर
 

26 जनवरी के बाद क्या करोगे? किसान नेता राकेश टिकैत से सवाल, बोले- सरकार बड़ी तो किसान बहुत बड़ा, नवंबर तक चलेगा आंदोलन

राकेश टिकैत ने फिर से दोहराया है कि 'किसान वापस किसी कीमत पर नहीं जाएगा। वो यहीं रहेगा। सरकार खत्म हो जाएगी पर ना तो किसान खत्म होगा, ना तिरंगा और ना ही हिन्दुस्तान।

rakesh tikait, farmers protestकिसान नेता राकेश टिकैत, फोटो सोर्स- ANI

तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। मीडिया से बातचीत के दौरान किसान नेता राकेश टिकैत से जब पूछा गया कि 26 जनवरी के बाद उनकी क्या योजना है? इस सवाल के जवाब में किसान नेता ने कहा कि ‘हम तो यहीं रहेंगे, हम क्या कहीं जा रहे हैं, किसने कह दिया कि हम कहीं जा रहे हैं…ये तो अक्टूबर-नवंबर तक चलेगा, ये ऐसे खत्म नहीं होगा। सरकार भी बड़ी चीज है, किसान भी बहुत बड़ी चीज है। दोनों ऐसे ही हैं बीच में कोई नहीं आएगा हमारे। मध्यस्थता की कोई जरुरत नहीं है, ना सरकार ही हट रही है और ना ही किसान हटेगा।’

ट्रैक्टर रैली को लेकर राकेश टिकैत ने कहा कि ‘अगर आपने किसान के मान-सम्मान को ठेस पहुंचाई तो ऐसी ही प्रतिक्रिया देखने को मिलेगी। किसान को अन्नदाता कहते-कहते अफगानिस्तानी बताने लगे, अब ये तिरंगा थाम कर आ गए हैं। सरकार किसानों के बारे में ऊंट-पटांग बात कर रही है। किसान यहां घर-बार, जमीन, जायदाद सबकुछ दांव पर लगा कर आया है।’ राकेश टिकैत ने फिर से दोहराया है कि ‘किसान वापस किसी कीमत पर नहीं जाएगा। वो यहीं रहेगा। सरकार खत्म हो जाएगी पर ना तो किसान खत्म होगा, ना तिरंगा और ना ही हिन्दुस्तान। किसान इस लड़ाई को यहां से जीत कर ही जाएगा, चाहे एक साल लगे दो साल लगे या फिर तीन साल।’

बहरहाल आपको बता दें कि किसानों को दिल्ली पुलिस के द्वारा 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के दिन ट्रैक्टर रैली निकालने की इजाजत दे दी गई है। इसी बीच गाजियाबाद, मुरादाबाद, आगरा आदि जगहों से आने वाले किसानों ने यह शिकायत की है कि कुछ पेट्रोल पंप उन्हें डीजल देने से मना कर रहे हैं।

इसपर भी प्रतिक्रिया देते हुए राकेश टिकैत ने कहा था कि ‘पेट्रोल पंपों को यह आदेश कर दिया गया है कि आप पेट्रोल पंपो को डीजल नहीं दोगे, ये एक गंभीर किस्म का आरोप है किसानों के प्रति। सरकार क्या चाह रही है? डीजल न देने से ट्रैक्टर दिल्ली में नहीं आ सकता? ये गलतफहमी सरकार न पाले। अब लगता है कि उत्तर प्रदेश सरकार भी एक आंदोलन करवाने के मूड में है।’

Next Stories
1 ट्रैक्टरों को पेट्रोल देना बंद कर दिया, पंपों पर खड़े हैं किसान, राकेश टिकैत बोले- तेल की व्यवस्था नहीं हो पा रही
2 महाराष्ट्र: 4300 करोड़ के घोटाले से जुड़े केस में MLA के आवास पर ईडी की रेड, लाखों की नकदी और अहम दस्तावेज बरामद
ये पढ़ा क्या?
X