ताज़ा खबर
 

बीजेपी ने बनाया लेनिन की जगह त्रिपुरा के राजा की मूर्ति लगाने का प्लान, परिवार ने किया विरोध

त्रिपुरा में बीजेपी की शानदार जीत के बाद सोमवार को लेनिन की प्रतिमा जेसीबी मशीन के द्वारा ढहा दी गई। इस प्रतिमा को गिराने का आरोप बीजेपी के कार्यकर्ताओं पर लगा है। त्रिपुरा में अब तक लेनिन की दो प्रतिमाओं को गिराया जा चुका है। वहीं तमिलनाडु में भी नास्तिकता के विचार को फैलाने वाले विचारक पेरियार की मूर्ति को भी क्षति पहुंचाई गई है।

Author Updated: March 7, 2018 7:50 PM
लेनिन की प्रतिमा और महाराजा बीर बिक्रम सिंह के पोते प्रद्युत माणिक्य (फोटो सोर्स- ट्विटर/@PradyotManikya)

त्रिपुरा में कम्युनिस्टों के आदर्श व्लादिमीर लेनिन की मूर्ति ढहाए जाने के बाद ऐसी खबरें सामने आई थीं कि बीजेपी इन जगहों पर त्रिपुरा के आखिरी महाराजा बीर बिक्रम सिंह की प्रतिमा लगाने की योजना बना रही है। इस पर अब खुद महाराजा के परिवार की ओर से आपत्ति दर्ज करा दी गई है। बीर बिक्रम सिंह के पोते प्रद्युत माणिक्य ने कहा है कि इस पूरे मामले में उनके दादा को ना घसीटा जाए। किसी की प्रतिमा को हटाकर महाराजा की मूर्ति नहीं लगाई जानी चाहिए, अगर कोई उन्हें सम्मानित करना चाहता है तो नए स्थान पर भले ही उनकी मूर्ति बना दे। प्रद्युत ने ट्वीट कर कहा, ”कृपया इस मामले में मेरे दादा महाराजा बीर बिक्रम सिंह को शामिल ना किया जाए। मुझे यह खबर मिली है कि लेनिन की प्रतिमाओं की जगह महाराजा की प्रतिमा लगाने की योजना बनाई जा रही है, यह काफी निराशाजनक है। अगर कोई उनकी याद में प्रतिमा बनाना चाहता है तो नए स्थान पर बनाएं, लेकिन किसी अन्य की मूर्ति हटाकर नहीं।”

बता दें कि त्रिपुरा में बीजेपी की शानदार जीत के बाद सोमवार को लेनिन की प्रतिमा जेसीबी मशीन के द्वारा ढहा दी गई। इस प्रतिमा को गिराने का आरोप बीजेपी के कार्यकर्ताओं पर लगा है। त्रिपुरा में अब तक लेनिन की दो प्रतिमाओं को गिराया जा चुका है। वहीं तमिलनाडु में भी नास्तिकता के विचार को फैलाने वाले विचारक पेरियार की मूर्ति को भी क्षति पहुंचाई गई है। इस मामले में भी बीजेपी कार्यकर्ताओं पर आरोप लगा है। पश्चिम बंगाल में भी श्यामा प्रसाद मुखर्जी को तोड़ दिया गया है। इन घटनाओं की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने निंदा की है। गृह मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि इन घटनाओं में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी वहीं बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भी इन घटनाओं की आलोचना करते हुए कहा है कि अगर इनमें कोई बीजेपी का कार्यकर्ता शामिल पाया जाता है तो उसके खिलाफ कड़े कदम उठाए जाएंगे। भले ही पीएम मोदी और अमित शाह ने प्रतिमाएं ढहाए जाने की आलोचना की है, लेकिन बीजेपी के ही कुछ नेताओं द्वारा इसका समर्थन किया जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Rajasthan Local Body Bypolls Results: लोकसभा, विधानसभा के बाद निकाय उपचुनावों में भी BJP पर भारी कांग्रेस
2 राजस्‍थान महिला आयोग अध्‍यक्ष का कटाक्ष- जो युवा अपनी जींस नहीं संभाल सकता, वह बहनों की रक्षा क्‍या करेगा
3 त्रिपुरा में बीजेपी की जीत पर बोले सुनील देवधर- सूअर का मांस खाकर बनाई लोगों के दिलों में जगह
ये पढ़ा क्या?
X