ताज़ा खबर
 

सावधान! राजधानी में बड़े स्तर पर चल रहा था फर्जी नोटों का ‘खेल’, आप न हों शिकार इसलिए ऐसे पहचानें नकली करेंसी को

पुलिस ने कुल 54.9 लाख रुपए के नोट बरामद किए हैं। समय-समय पर नकली नोटों को छापने वाले गिरोह का भांडाफोड़ होता रहता है।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम ने फर्जी भारतीय करंसी बनाने वाले एक गिरोह का भांडाफोड़ किया है। पुलिस ने मामले में पांच आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है। पुलिस ने कुल 54.9 लाख रुपए के नोट बरामद किए हैं। स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद कुमार कुशवाहा ने बताया ‘डीसीपी स्पेशल सेल प्रमोद कुमार कुशवाहा ने बताया, ‘पुलिस ने नकली भारतीय करंसी नोट (एफआईसीएन) रैकेट का भंडाफोड़ किया है। इसमें शामिल 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। उनसे 54.9 लाख रुपए के नकली नोट बरामद किए गए हैं।’

मालूम हो कि मोदी सरकार ने 2016 में एतिहासिक कदम उठाते हुए 500 और 1000 रुपए नोटों पर बैन लगाकार मार्केट में नए नोटों को उतारा था। इसका मकसद ब्लैक मनी और नकली नोटों की छपाई को लगाम में लाना था। लेकिन सरकार के इस कदम का कोई व्यापक असर होता नहीं दिख रहा। समय-समय पर नकली नोटों को छापने वाले गिरोह का भांडाफोड़ होता रहता है।

मार्केट में नकली नोटों का सर्कुलेशन धड़ल्ले से जारी है। न जाने ऐसे ही कितने रैकेट ब्लैक मार्केट में सक्रिय हैं। आम नागरिक ही सबसे ज्यादा इस ठगी का शिकार होते हैं। बाजार में हमें कोई नकली नोट थमा देता है और हमें पता भी नहीं चलता। अगर आप इन नकली नोटों के खेल का शिकार नहीं होना चाहते तो आपको कुछ सावधानियां बरतनी होंगी। इसके लिए आपको नकली करंसी को पहचानना सिखना होगा।

कैसे पहचाने नकली नोट: 2000 का नोट जामुनी या हल्का बैगनी रंग का होता है। नोट की पहचान की शुरुआत आगे की ओर से करते हैं। यहां बाईं ओर 2000 लिखा होता है, जिसे लाइट की रोशनी के आगे कर के साफ देखा जा सकता है। पास में एक जगह और डिनॉमिनेशन नंबर लिखा होगा, जबकि देवनागरी में थोड़ा ऊपर 2000 दिखेगा। अंकों से पहले रुपए का चिह्न भी होता है। नोट की बाईं ओर महीन अक्षरों में आरबीआई और 2000 लिखा रहता है।

नोट पर छोटा सा भारत भी दिख जाएगा। नोट पर सिक्योरिटी थ्रेड (पतली सी पट्टी) भी दिया जाता है, जिस पर भारत, आरबीआई और 2000 लिखा दिखता है। नोट जब भी ऊपर-नीचे कर के देखा जाता है, तो इस थ्रेड का रंग हरे से नीला हो जाता है।वहीं, नोट के पीछे बाईं ओर उसकी छपाई का साल लिखा रहेगा। मंगलयान की आकृति बनी मिलेगी, जबकि देवनागरी में डिनॉमिनेशन नंबर लिखा रहेगा।

बात करें 500 रुपए के नोट की तो यह स्टोन ग्रे रंग का होता है। आगे बाईं ओर 500 लिखा होता है। यह लाइट की रोशनी के आगे साफ देखा जा सकता है। अगल-बगल डिनॉमिनेशन नंबर लिखे मिलेंगे। नोट के बीच में महात्मा गांधी का फोटो होता है। 2000 के नोट की तरह इसमें भी सिक्योरिटी थ्रेड दिया जाता है, जो नोट को अलग-अलग एंगल से देखने पर रंग बदता है। यह हरे से नीला हो जाता है। थ्रेड के पास में मौजूदा आरबीआई गर्वनर उर्जित पटेल के हस्ताक्षर मिलेंगे। आरबीआई का लोगो भी दिखेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X
Next Stories
1 महाराष्ट्र: बंद हो कॉलेजों में छात्र संघ चुनाव, स्टूडेंट्स को अभी सही गलत की समझ नहीं; CM उद्धव के सामने युवा सेना रखेगी मांग
2 नागरिकता कानून विवादः राहुल गांधी का वार- झूठे हैं PM नरेंद्र मोदी, BJP का पलटवार- झूठों के सरदार हैं पूर्व Congress चीफ
3 CAA नहीं लागू किया तो केंद्र सरकार करेगी शक्ति का इस्तेमाल, BJP सांसद ने राज्यों को चेताया
ये पढ़ा क्या?
X