यूपीः फैजाबाद जंक्शन रेलवे स्टेशन का नाम बदला, अयोध्या कैंट के नाम से मिली नई पहचान

यूपी चुनाव के मद्देनजर योगी सरकार नाम बदलने की राह पर चल निकली है। कई जगहों के नाम धड़ाधड़ बदले गए हैं। इसी कड़ी में रेलवे ने फैजाबाद रेलवे स्टेशन के नाम को बदल दिया है। अब फैजाबाद जंक्शन को अयोध्या कैंट के नाम से जाना जाएगा। योगी सरकार चुनाव में राम मंदिर के सहारे […]

Faizabad Junction
भारतीय रेलवे ने नोटिफिकेशन जारी करके ये सूचना दी है। हालांकि यूपी सरकार ने बीते 23 अक्टूबर को ही ये फैसला कर लिया था कि नाम को बदला जाएगा। (फाइल फोटो)

यूपी चुनाव के मद्देनजर योगी सरकार नाम बदलने की राह पर चल निकली है। कई जगहों के नाम धड़ाधड़ बदले गए हैं। इसी कड़ी में रेलवे ने फैजाबाद रेलवे स्टेशन के नाम को बदल दिया है। अब फैजाबाद जंक्शन को अयोध्या कैंट के नाम से जाना जाएगा। योगी सरकार चुनाव में राम मंदिर के सहारे ही जीत की आस लगाए है। ऐसे में यह फैसला काफी अहम माना जा रहा है।

भारतीय रेलवे ने नोटिफिकेशन जारी करके ये सूचना दी है। हालांकि यूपी सरकार ने बीते 23 अक्टूबर को ही ये फैसला कर लिया था कि नाम को बदला जाएगा। उस दौरान यूपी के मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर ये जानकारी दी थी कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने फैजाबाद रेलवे जंक्शन का नाम अयोध्या कैंट करने का फैसला किया है।

इससे पहले फैजाबाद जिले और मंडल का नाम भी बदला जा चुका है और साल 2018 में योगी सरकार ने ये नाम बदलकर अयोध्या कर दिया था। फैजाबाद से पहले योगी सरकार और भी कई जगहों के नाम बदल चुकी है।

पहले कहां बदले गए नाम

यूपी सरकार ने चंदौली जिले के मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय रखा था। इसके अलावा वाराणसी के मंडुवाडीह स्टेशन का नाम बदलकर बनारस स्टेशन, इलाहाबाद जंक्शन का नाम बदलकर प्रयागराज जंक्शन, इलाहाबाद सिटी स्टेशन का प्रयागराज रामबाग, इलाहाबाद छिवकी का प्रयागराज छिवकी और प्रयागराज घाट का प्रयागराज संगम किया गया था।

अयोध्या में दीपोत्सव की तैयारी

दिवाली से पहले अयोध्या में जोर शोर से तैयारियां चल रही हैं। इस बार यहां योगी सरकार ने एरियल ड्रोन शो की व्यवस्था की है। दीपोत्सव का सबसे खास आकर्षण इस बार यही होगा। ऐसे में बड़ी संख्या में पर्यटकों के यहां पहुंचने की उम्मीद जताई जा रही है।

दिवाली से पहले फैजाबाद रेलवे स्टेशन के नाम को बदलना इसी कड़ी का हिस्सा माना जा रहा है, क्योंकि जब भारी संख्या में पर्यटक अयोध्या पहुंचें तो उन्हें स्टेशन के नाम को लेकर किसी तरह का भ्रम ना रहे और लोगों को ये संदेश भी जाए कि योगी सरकार भगवान राम के मुद्दे को लेकर कितना गंभीरता से अपना काम कर रही है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट